केएल राहुल ने माना, हावी हो गया था ‘दोहरे शतक का दबाव’

no photo
 |

©BCCI Media

केएल राहुल ने माना, हावी हो गया था ‘दोहरे शतक का दबाव’

इंग्लैंड के खिलाफ पांचवे टेस्ट मुकाबले के तीसरे दिन अपने करियर के पहले दोहरे शतक से चूकने पर केएल राहुल ने अफसोस जाहिर किया है। राहुल ने अपने बचपन के दोस्त करूण नायर की पारी की तारीफ की और उम्मीद जताई की मुरली विजय भारत को बड़ी बढ़त दिलाएंगे।

‘‘मेरे आउट होने से पहले तक एक अच्छा दिन था। मैं सकारात्मक होकर खेलना चाहता था और ऐसा हो भी रहा था। मैं गेंद को बीच से खेल रहा था। सभी चीजें सही नजर आ रही थी लेकिन दोहरा शतक बनाने का दबाव मुझ पर हावी होने लगा। दोहरे शतक से चूकने पर दुख होता है।’’

द हिन्दु को राहुल ने बताया, ‘‘मैं काफी दुखी हूं। लेकिन मैं इस खुशी के साथ घर वापस जाउंगा कि मैंने टीम के लिए 199 रनों की अहम पारी खेली।’’

199 रन पर बल्लेबाजी करते हुए राहुल ने कवर प्वाइंट पर खड़े जोस बटलर को आसानी से कैच थमा दिया और बेहद भारी मन से वो मैदान छोड़ते नजर आए। उन्होंने कहा, ‘‘मैं खत्म हो गया था। ड्रेसिंग रूम में मुझसे क्या कहा गया मैं उसे भी नहीं सुन पाया। वहां कुछ लड़के थे जो मेरे पास आकर कुछ कह रहे थे, लेकिन मैं कुछ नहीं सुन पाया, मैं बहुत दुखी था। विशाखापट्नम में मुझे मेरा पहला अंतर्राष्ट्रीय डक मिला और अब मैं 199 पर आउट हो गया... इस टेस्ट सीरीज से मेरी कई तरह की भावनाएं जुड़ चुकी हैं।’’

कर्नाटका के इस बल्लेबाज ने माना कि इंजरी की वजह से खेल की तरफ उनका फोकस बदल गया था। 

राहुल ने कहा, ‘‘मैं एक महीने के बाद वापसी कर रहा था और मुझे तीसरे टेस्ट से बाहर होना पड़ा, लेकिन वो आपके जेहन में चलता ही रहता है। मैं सोच रहा था कि दोबारा चोटिल होने से बचा रहूं और उसके बजाए बल्लेबाजी पर फोकस करूं। मैंने अपने नजरिए में बदलाव किया और सोचा कि अगर मैं चोटिल होने के बारे में ही सोचूंगा तो मैं सच मैं चोटिल हो जाउंगा। और यहां उसकी जगह नहीं है।’’

राहुल ने करूण नायर की भी काफी तारीफ की जिसके साथ मिलकर उन्होंने चाौथे विकेट के लिए 161 रनों की साझेदारी की और उम्मीद जताई की मुरली विजय इस बढ़त को आगे लेकर जाएंगे। उन्होंने कहा, ‘‘करूण और मैं तब से एक साथ खेल रहे हैं जब हम 11 साल के थे। उसका परिवार उसे देखने के लिए यहां मौजूद था और हम दोनों का ही परिवार हमें साथ खेलता देख, हम पर गर्व कर रहे होंगे। मैं करूण को 50 के बाद भी बल्लेबाजी करता देख काफी खुश हूं। वो आत्मविश्वासी नजर आता है। उम्मीद है वो और मुरली विजय इसे आगे बढाएंगे।’’

24 वर्षीय इस खिलाड़ी को लगता है इस सीरीज में खेले गए सभी मुकाबलों में से यहां की पिच सबसे अच्छी है और मैच के आखिरी दो दिन उन्होंने टर्न मिलने की उम्मीद जताई है। उन्होंने कहा, ‘‘हमारा लक्ष्य पांच या छह सत्र में बल्लेबाजी करना है और अगर हमें 100-150 रनों की बढ़त मिल जाती है तो इंग्लैंड के बल्लेबाज दोबारा दबाव में आ जाएंगे। उम्मीद है की विकेट टूटेगी और पांचवे दिन कुछ होगा।’’

‘‘इस सीरीज में खेले गए सभी मुकाबले में से यहां की विकेट सबसे अच्छी है। जब हमें इस तरह की विकेट मिलती है तब हम उसका ज्यादा से ज्यादा इस्तेमाल करना चाहते हैं। उम्मीद है इस पर टर्न मिलना शुरू होगा।’’

RCB vs KXIP - Who will be the winning team?

Predict IPL Matches NOW! Click here to download Nostra Pro & get ₹20 Joining Bonus!

Win cash daily by predicting the right result on Nostragamus. Click here to download the game on Android! To know more, visit Nostragamus.in

SHOW COMMENTS