पार्थिव पटेल: दुनिया में कोई ऐसा विकेटकीपर नहीं है जिसका रिकाॅर्ड 100 प्रतिशत है

no photo
 |

© Getty Images

पार्थिव पटेल: दुनिया में कोई ऐसा विकेटकीपर नहीं है जिसका रिकाॅर्ड 100 प्रतिशत है

पार्थिव पटेल ने रिद्धिमान साहा से हो रही तुलना से बचते हुए कहा कि दुनिया में कोई भी विकेटकीपर ऐसा नहीं है जिसका परफेक्ट रिकाॅर्ड हो। 31 वर्षीय इस खिलाड़ी के मुताबिक इंग्लैंड के खिलाफ मोहाली में खेला गया टेस्ट उनका आखिरी मैच हो सकता है और साहा स्वस्थ होकर वापस आ सकते हैं लेकिन वो चिंतित नहीं है।

पटेल ने क्रिकबज़ वेबसाइट को बताया, ‘‘मैं किसी भी प्रकार की तुलना में यकीन नहीं रखता हूं। मैं ये पहले भी कह चुका हूं- आप मुझे दुनिया का कोई एक कीपर ऐसा बताएं जिसका 100 प्रतिशत का रिकाॅर्ड है और उसने एक भी कैच नहीं गिराया। जब से मैं लोगों की नज़रों में आया हूं तब से मुझसे छूट जाने वाले कैचों की चर्चा हो रही है। ये अंपायर के काम की तरह है। कोई भी वानखेड़े के उस कैच का ज़िक्र नहीं कर रहा है जिससे बेयरस्टो या बेन स्टोक्स का विकेट मिला या एलेस्टर कुक की स्टंपिंग की।’’

‘‘लेकिन अब मुझमें विश्वास है और मेरे पास काफी अनुभव भी है। मुझे यकीन है कि मैं दबाव झेल सकता हूं और मुझे दूसरी चीज़ों की चिंता करने की जरूरत नहीं है।’’

रिद्धिमान साहा के चोटिल होने के बाद पार्थिव पटेल को तकरीबन आठ साल बाद टेस्ट क्रिकेट खेलने का मौका मिला।

उन्होंने कहा, ‘‘हर दिन मेरे लिए एक अवसर था। मैं इसका काफी लंबे वक्त से इंतजार कर रहा था। मैं इस बात से बिल्कुल भी चिंतित नहीं हूं कि ये मेरा आखिरी टेस्ट था या फिर टेस्ट क्रिकेट में मेरा आखिरी दिन था। मैं देश के लिए दोबारा खेलकर काफी खुश था। जब आप दबाव भरा मुकाबला खेलते हैं तब आपको भविष्य में क्या होने वाला है इसे लेकर चिंतित होने की ज़रूरत नहीं है। आप सिर्फ कोशिश करो और अपना बेहतरीन दो।’’

‘‘मुझे हमशा से ये यकीन था कि मुझे अंतर्राष्ट्रीय मुकाबले में वापसी करने का मौका ज़रूर मिलेगा। इंडियन प्रीमियर लीग में मिली कामयाबी की वजह से मैं अपने क्रिकेट का आनंद ले रहा था। एक अनुबंध से बढ़कर, यहां आपको अंतर्राष्ट्रीय गेंदबाजों के खिलाफ अपनी क्षमता को मापने का मौका मिलता है। जब आप भारत के लिए नहीं खेल रहे होते हैं तब आप इसके बारे में सोच सकते हैं। ये आपको आगे बढ़ने में मदद करता है।’’

‘‘मैं जब नहीं खेल रहा था तब मैं हताश नहीं था क्योंकि मैं अपने चयन के बारे में सोच ही नहीं रहा था। मौजूदा कमेटी ने बताया कि मैं कहां खड़ा हूं और ये स्वागत योग्य कदम है। जब आप इस प्रक्रिया से जुड़े नहीं रहते हो तब आपको पता नहीं चलता है कि आप कहां हैं। अगर एक खिलाड़ी को ये पता चल जाए कि इस वक़्त वो किस जगह पर खड़ा है तो वो सही दिशा में सोच सकता है।’’

पटेल ने बताया कि वो लंबे वक्त से विकेटकीपिंग से जुड़े हुए हैं।

‘‘जब मुझे टीम से बाहर किया गया था तब मैं सही से गतिविधि नहीं कर पाता था, हो सकता है उस वक्त मैं इतना फिट और मज़बूत नहीं था कि 90 ओवर संभाल सकंू। लेकिन अब मुझे किसी को भी ये बताने की जरूरत नहीं है कि मैं कितना फिट हूं। मैं 160 ओवर कराने के बाद सलामी बल्लेबाज के तौर पर मैदान पर आता हूं। मुझे ऐसा करके अच्छा महसूस होता है।’’

Predict IPL & WIN CASH! Can you predict the Game?

Join & Play NOW! Click here here to download Nostra Pro & get ₹20 Joining Bonus!

Win cash daily by predicting the right result on Nostragamus. Click here to download the game on Android! To know more, visit Nostragamus.in

SHOW COMMENTS