महेला जयवर्धने: दूसरी टीमों में चोट की समस्या से हमें नहीं होगा कोई फायदा

no photo
 |

© Getty Images

महेला जयवर्धने: दूसरी टीमों में चोट की समस्या से हमें नहीं होगा कोई फायदा

कोच महेला जयवर्धने ने इस तरह की खबरों का खंडन किया है जिसमें कहा जा रहा है कि दूसरे टीमों के अहम खिलाड़ियों के चोटिल हो जाने से मुंबई इंडियंस को लाभ मिलेगा। श्रीलंकाई खिलाड़ी ने ये भी कहा कि दूसरे देशों में जाकर खेलने से उन्हें बेहतर आॅल-राउंडर बनने में मदद मिली।

आईपीएल की एक गेंद भी नहीं खेली गई और कई टीमों की हालत अभी से खराब हो गई है। आरसीबी के शुरूआती मुकाबलों में विराट कोहली नजर नहीं आएंगे, तो वहीं केएल राहुल पूरे सत्र के लिए बाहर हो चुके हैं। पुणे को अपने स्टार खिलाड़ी रविचंद्रन अश्विन के बिना ही खेलना होगा तो वहीं आईपीएल 10 के लिए रविन्द्र जडेजा, मुरली विजय और उमेश यादव पूरी तरह से फिट नहीं हैं।

द हिन्दु के मुताबिक जयवर्धने ने कहा, ‘‘मुझे नहीं लगता है कि मुंबई इंडियन्स को कोई लाभ होगा। मुझे नहीं लगता है ऐसा कुछ होगा। ये दुर्भाग्यपूर्ण है कि कई खिलाड़ी चोटिल हैं। पूर्व में ऐसा मुंबई इंडियन्स के साथ हो चुका है। ये इस पूरे समीकरण का हिस्सा है।’’

‘‘आईपीएल की अच्छी बात ये है कि यहां कई दूसरे अच्छे खिलाड़ी मौजूद हैं और अब उन्हें मौका मिल सकेगा। ये सभी खिलाड़ी 100 प्रतिशत आत्मविश्वास के साथ आएंगे। मुझे नहीं लगता है कि इससे मुंबई इंडियन्स को फायदा होगा।’’

‘‘हमें ये सुनिश्चित करना है कि हम अच्छा क्रिकेट खेलें। ये सत्र काफी मुश्किल होने वाला है क्योंकि आईपीएल फाइनल के जल्द बाद ही चैंपियंस ट्राॅफी शुरू हो जाएगा।’’

श्रीलंका की राष्ट्रीय क्रिकेट टीम और आईपीएल के अलावा जयवर्धने ने दुनिया की और भी कई टीमों के लिए अपनी सेवाएं दी हैं। 39 वर्षीय इस खिलाड़ी ने जमैका तलावाह, एडिलेड स्ट्राइकर और कराची किंग्स के लिए अपना हुनर दिखाया है।

जयवर्धने ने क्रिकबज से कहा, ‘‘मेरे विचार से दुनिया के अलग-अलग माहौल में खेलने से आपको मदद मिलती है। मुकाबले खेलना और कोचिंग देना दोनों भूमिकाओं में अंतर है। मुझे लगता है मुझे पीछे हटने की जरूरत है और खिलाड़ियों को खेलने देना चाहिए।’’

‘‘ये कोशिश करना और सुनिश्चित करना की प्रत्येक मुकाबले के लिए तैयारी पूरी तरह से की गई हो। और उन्हें जाकर खेलने और खुद को व्यक्त करने की आजादी देनी चाहिए। काफी चीजें हैं जिस पर पर्दे के पीछे रहकर चर्चा की जाती है।’’

मुंबई की टीम आईपीएल की नीलामी के दौरान बेन स्टोक्स को अपनी टीम में शामिल करना चाहती थी लेकिन पुणे ने 14.5 करोड़ रूपए की भारी-भरकम रकम के साथ उन्हें खरीद लिया। जयवर्धने ने कहा, ‘‘हमारे पास एक निश्चित बजट था। वो एक अच्छा आॅल-राउंडर है और वो कुछ खास जरूर करेगा। मैं मुंबई इंडियन्स के दल से संतुष्ट हूं... हमारे पास एक अच्छी टीम है। कोच की भूमिका निभाना एक अलग ही काम है। मैं पीछे रहूंगा और खिलाड़ियों को आगे बढ़कर जिम्मेदारी उठाने की इजाजत दूंगा।’’

SHOW COMMENTS