आईपीएल में जीत दर्ज करने के लिए बेताब हैं सुरेश रैना, कैफ ने किया दावा

no photo
 |

© BCCI

आईपीएल में जीत दर्ज करने के लिए बेताब हैं सुरेश रैना, कैफ ने किया दावा

गुजरात लायंस के सहायक कोच मोहम्मद कैफ का मानना है कि सुरेश रैना आगामी इंडियन प्रीमियर लीग में जीत का स्वाद चखने के लिए बेताब हैं। कैफ ने इस बात पर भी जोर दिया कि अगर गुजरात अगले स्तर तक पहुंचना चाहती है तो उनके इस सफर में रविन्द्र जडेजा अहम रोल निभा सकते हैं।

सुरेश रैना के आंकड़े ही बता देते हैं कि उन्होंने आईपीएल और राष्ट्रीय क्रिकेट टीम में कितना योगदान किया है। आईपीएल के नौ सत्र में रैना ने 33.59 की औसत से 4098 रन स्कोर किए हैं। पिछले साल चेन्नई सुपरकिंग्स के सस्पेंड होने के बाद रैना को नई टीम गुजरात लायंस की कप्तानी सौंपी गई। 30 वर्षीय इस खिलाड़ी ने टीम के पदार्पण टूर्नामेंट में आगे रहकर नेतृत्व किया और कुल 399 रन बनाए।

कैफ ने इंडियन एक्सप्रेस से कहा, ‘‘सुरेश एक बड़ा खिलाड़ी हैं और उसमें टीम के लिए मुकाबला जीतने का मद्दा है। उसके लिए प्रदर्शन करना और रन बनाना जरूरी है। दूसरे के लिए नहीं लेकिन खुद की संतुष्टि के लिए। और अब तक उसके साथ जो भी बातचीत हुई है, मैंने उसके अंदर प्रदर्शन करने की भूख देखी है।’’

‘‘एक कप्तान के तौर पर उसे टीम के साथियों के लिए उदाहरण पेश करना होगा। एक कप्तान जो आगे आकर प्रदर्शन और नेत्त्व करता है वो टीम का मनोबल बढ़ाने में सहायक होता है। आईपीएल जैसे टूर्नामेंट आपके उपर दबाव बनाते हैं। लेकिन वो एक सीनियर खिलाड़ी है जिसने दशकों तक भारत का नाम आगे बढ़ाया और वो किसी भी स्थिति में बिना दबाव के खेलें।’’

कैफ को सिर्फ रैना से ही उम्मीदें नहीं हैं। पूर्व भारतीय खिलाड़ी ने आॅल-राउंडर रविन्द्र जडेजा की भी तारीफ की जिन्होंने अपने प्रदर्शन से आईसीसी की टेस्ट गेंदबाजी रैंकिंग में रविचंद्रन अश्विन को हटा कर पहला स्थान हासिल किया। हाल ही में आॅस्ट्रेलिया के खिलाफ खत्म हुई टेस्ट सीरीज में 28 वर्षीय इस खिलाड़ी ने शानदार भूमिका निभाई थी।

कैफ ने कहा, ‘‘उसके लिए ये एक जबर्दस्त सत्र था। 2008 में राजस्थान राॅयल्स के लिए हम साथ खेले थे और इन 10 सालों में कई उतार-चढ़ाव उसने देखे लेकिन अब वो भारत का एक अहम खिलाड़ी बन चुका है। मौजूदा फाॅर्म को देखते हुए वो इस सत्र में लायंस के लिए अहम रोल अदा कर सकता है।’’

‘‘सभी प्रारूपों में उसका योगदान शानदार है। इस सीजन में हमने उसे गेंदबाजी लाईनअप का नेतृत्व करते हुए देखा। उसकी बल्लेबाजी क्षमता को भी नजरअंदाज नहीं किया जा सकता है।’’

गुजरात एक ऐसा टीम हैं जिसमें कोई भी खिलाड़ी चोटिल नहीं है और पूरी टीम लीग में अपने दूसरे सत्र के लिए पूरी तरह से तैयार है। बड़े स्कोर करने के बावजूद पिछले सत्र में उनकी गेंदबाजी कई मौकों पर असरदार नहीं रही थी। कैफ का मानना है कि उनका दल अच्छा है और वो पिछले साल की गलतियों को नहीं दोहराएंगे।

कैफ ने कहा, ‘‘इस सत्र में हमारे पास युवा और अनुभवी खिलाड़ियों का मिश्रण है। और जिस तरह की बल्लेबाजी क्षमता हमने पिछले साल दिखाई थी उसके मुताबिक हमें गेंदबाजी में मजबूती चाहिए।’’

‘‘ब्रैंडन मैकलम, जेम्स फाॅकनर, ड्वेन ब्रावो, एरोन फिंच, ड्वेन स्मिथ और जेसन राॅय जैसे खिलाड़ियों के रहते हमारे पास ज्यादा गेंदबाज के विकल्प नहीं है। इसलिए ज्यादा भारतीय गेंदबाजों के मौजूद रहने से सिलेक्टर उन्हें पिच की परिस्थिति के अनुरूप इस्तेमाल कर सकते हैं। हमारे पास अतिरिक्त गेंदबाजों में मनप्रीत गोनी, मुनाफ पटेल, नाथू सिंह, बासिल थम्पी और दो आॅल-राउंडर शुभम अग्रवाल और प्रथम सिंह हैं। इससे हमारी टीम को वैरायटी और मजबूती मिलेगी।’’

India or West Indies? Who will win?

WI hold a 60-53 H2H advantage over IND historically but in last 10 completed games between them , IND have won 7. IND has also won all last 5 games at this venue.

Win cash daily by just predicting the right result of matches. Click here to download the game on Android for FREE! To know more, visit Nostragamus.in

SHOW COMMENTS