IPL 2017 | राइजिंग पुणे सुपरजायंट बनाम मुंबई इंडियन्स - खिलाड़ियों की समीक्षा

no photo
 |

BCCI

IPL 2017 | राइजिंग पुणे सुपरजायंट बनाम मुंबई इंडियन्स - खिलाड़ियों की समीक्षा

कप्तान स्टीव स्मिथ के नाबाद 84 और अजिंक्य रहाणे के 60 के स्कोर की बदौलत, राइजिंग पुणे सुपरजायंट मुंबई द्वारा तय किये गए 184 के लक्ष्य को प्राप्त करने में सफल रहें। टीम के मिडिल आर्डर के लड़खड़ाने के बाद, आखिरी ओवर में हार्दिक पांड्या के 28 रन बटोरने के कारण मुंबई 184/8 के स्कोर तक पहुँच सका था।

मुंबई इंडियन्स

पार्थिव पटेल - (7/10)

पटेल ने मुंबई की पारी को एक अच्छी शुरुआत दी थी और पहले दो ओवर में बाउंड्री लगाते हुए उन्होंने विरोधियों को मुश्किल समय भी दिखाया। पांचवे ओवर पर उन्होंने इमरान ताहिर की गेंद पर बाउंड्री लगाया लेकिन इसके बाद ही वह उसी दक्षिण अफ़्रीकी गेंदबाज़ के हाथों आउट भी हो गए।

जोस बटलर - (7/10)

शुरुआती जोड़ी के टायर ओअर बटलर ने पटेल का साथ बखूबी निभाया और पॉवरप्ले के दौरान पुणे पर दबाव बनाने में कामयाब भी रहे। उन्होंने बेन स्टोक्स की गेंद पर लगातार दो छक्के भी मारे लेकिन 19 गेंदों पर 38 रन बनाने के बाद, सातवे ओवर पर वह भी ताहिर की गेंद से आउट हो गए। हालांकि इस नाकामयाबी की वजह उनकी कोई ग़लती नहीं है। क्योंकि उन्होंने काफी ध्यान से वह गेंद खेली थी।

रोहित शर्मा - (3/10)

कप्तान बल्लेबाजी करने थोड़े बाद में आये लेकिन उनका ये फैसला उल्टा पड़ गया। महज़ 3 रनों में ताहिर ने उन्हें lbw कर पवेलियन वापस भेज दिया। ये दिन शायद रोहित भुलाना चाहेंगे, क्योंकि मुंबई इंडियन्स को जीताने के लिए उनका अच्छा खेलना बेहद ज़रूरी है।

नितीश राणा - (5/10)

अम्बाती रायुडू और किरोन पोलार्ड के साथ राणा ने अच्छी सांझेदारी बनाई थी लेकिन 34 रन बनाकर वह एडम ज़ाम्पा के हाथों आउट हो गए। इसके साथ ही उन्होंने स्मिथ का एक अहम केच भी मिस किया, जो मुंबई के लिए काफी फायेदेमंद साबित हो सकता था।

कृणाल पांड्या - (4/10)

टीम के ये दूसरे पांड्या भी कुछ ज्यादा देर तक क्रीज़ पर टिक नहीं सके और रजत भाटिया की गेंद पर महज़ 3 रन बनाने के बाद वह एमएस धोनी के हाथों में केच दे बैठे।

किरोन पोलार्ड - (6/10)

पोलार्ड ने 3 चौकों और एक छक्के की मदद से 17 गेंदों में 27 रन बनाया और हार्दिक पांड्या को एक बेहतर पारी सौंपी। हालांकि, 1.5 ओवर खेलने के बाद, वह 30 रन के स्कोर पर नियंत्रण खो बैठे और आउट हो गए।

हार्दिक पांड्या - (8/10)

पांड्या ने अकेले ही मुंबई की पारी को संभाला और अशोक डिंडा की गेंदबाजी पर पलटवार करते हुए उन्होंने आखिरी ओवर में चार छक्के और एक चौका लगाया। इस ओवर में उन्होंने 28 रन बटोरे और पारी में उन्होंने 15 गेंद खेलकर 35 रन बनाये। उन्होंने गेंदबाजी में भी अपना कौशल दिखाया और 1/36 का स्कोर कायम किया। पांड्या इस मुकाबले में मुंबई के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी साबित हुए।

 © BCCI

टिम साउदी - (7/10)

कीवी खिलाड़ी ने मैदान में आते ही छक्का लगाया और रनों में अपना योगदान दिया। उन्होंने गेंदबाजी में 1/34 का स्कोर कायम किया लेकिन इसके बावजूद वह राइजिंग पुणे सुपरजायंट को रोक नहीं सके।

मिचेल मैकक्लेनेघन - (6/10)

कीवी तेज़ गेंदबाज़ ने मेहनत तो काफी की लेकिन 1/36 का स्कोर ही कायम कर पाए। हालांकि अगर राणा उनकी गेंद पर स्टीव स्मिथ का केच पकड़ लेते तो शायद मैच का रुख ही कुछ और होता।

जसप्रीत बुमराह - (6/10)

मुंबई की उम्मीद बुमराह से काफी थी और उन्होंने भी निराश नहीं किया। वैसे तो उन्होंने कोई विकेट नहीं लिए, लेकिन मुकाबले के रोमांचक पलों के लिए वह ही ज़िम्मेदार थे और अगर साउदी ने 19वे ओवर पर केच न छोड़ा होता तो नतीजे कुछ और होते।

राइजिंग पुणे सुपरजायंट

अजिंक्य रहाणे - (8/10)

भारतीय उपकप्तान ने अपने बेहतरीन प्रदर्शन जारी रखा और 34 गेंदों में ६० रन बटोरे और पुणे को लक्ष्य का पीछा करने में अपना योगदान दिया। उन्होंने अपनी ज़िम्मेदारी बखूबी पूरी की।

मयंक अगरवाल - (3/10)

वहीं अगरवाल अपने सांझेदार से बिलकुल उलटे निकले। महज़ 6 रन बनाकर वह मिचेल मैकक्लेनेघन की गेंद पर रोहित शर्मा को केच दे बैठे।

स्टीव स्मिथ - (9/10)

ऑस्ट्रेलियाई कप्तान इस मैच में भी पूरे जोश और होश में नज़र आये और उन्होंने टीम के लिए नाबाद रहकर 84 रनों की पारी खेली। जब मुंबई ने खेल को पेंचीदा बनाया था तब स्मिथ ने धोनी के अंदाज़ में ही दो बड़े शॉट लगाकर मुकाबले को पुणे के नाम किया था।

 © BCCI

बेन स्टोक्स - (8/10)

IPL के इतिहास के सबसे कीमती विदेशी खिलाड़ी ने अच्छी शुरुआत की। मुंबई की पारी में उन्होंने किरोन पोलार्ड का विकेट लिया और बल्लेबाजी के दौरान उन्होंने 14 गेंदों पर 21 रन बनाये।

एमएस धोनी - (8/10)

पुणे के पूर्व कप्तान और विश्व के सबसे अच्छे फिनिशर माने जाने वाले ने भी अपनी तरफ से पूरा योगदान दिया। मुंबई की बल्लेबाजी के दौरान उन्होंने अशोक डिंडा की गेंद पर कृणाल पांड्या का केच पकड़ा, वहीं टिम साउदी के रनआउट में भी उनका हाथ रहा।   

मनोज तिवारी - (5/10)

पुणे के इस खिलाड़ी के पास इस मैच में ज्यादा कुछ करने के लिए नहीं था। हालांकि आने वाले मैच में उन्हें अपना योगदान देना पड़ेगा लेकिन इस वक़्त वह आराम से इस जीत का जश्न मना सकते हैं।

रजत भाटिया - (7/10)

भाटिया ने भी अपने प्रतिभा का प्रदर्शन किया और बेहतरीन गेंदबाजी से अम्बाती रायुडू और कृणाल पांड्या के लिए मुश्किलें पैदा की।

दीपक चहर - (3/10)

मुंबई की पारी के दौरान, चहर की गेंद पर पार्थिव पटेल और जोस बटलर ने रन बटोरे। हालांकि, अच्छी बात ये है कि उन्होंने उनके चार ओवरों में से सिर्फ दो के लिए गेंद सौंपी गयी थी।

एडम ज़ाम्पा - (7/10)

मुंबई की पारी में मिडिल आर्डर को रोकने में ज़ाम्पा का बड़ा हाथ था। अपने तीन ओवर में उन्होंने 1/26 का स्कोर कायम किया और नितीश राणा का विकेट भी चटकाया।

इमरान ताहिर - (8/10)

खिलाड़ियों की नीलामी में न बिक पाने वाले ताहिर इस मुकाबले के अहम खिलाड़ी साबित हुए। वैसे तो उनका स्वागत पार्थिव पटेल ने अपने बाउंड्री के साथ की थी, लेकिन दक्षिण अफ़्रीकी खिलाड़ी ने उसी ओवर में पटेल को वापस भी भेज दिया। इसके बाद उन्होंने रोहित शर्मा और जोस बटलर जैसे खिलाड़ियों के भी विकेट लिए। ज़ाहिर है पुणे की टीम के लिए वह एक फायेदे का सौदा बनकर सामने आये हैं।

अशोक डिंडा - (3/10)

आखिरी ओवर में फॉर्म में रहने वाले हार्दिक पांड्या को गेंद डालने वाले डिंडा के लिए यह मैच कुछ ख़ास नहीं रहा उन्होंने पांड्या के सामने उसी क्षेत्र में गेंद डाले जिसमें वह मार सकते हैं और ऐसे में ज़रूरी यह है की डिंडा अपनी गेंदबाजी बेहतर करे

Jason Holder or Bhuvneshwar Kumar? Who will take more wickets?

Since start of 2014, Holder has taken 59 wickets at an avg of 34 while Kumar has taken just 38 wickets at an avg of 43. Kumar picked 3 wickets last time he played vs WI at this ground.

Win cash daily by just predicting the right result of matches. Click here to download the game on Android for FREE! To know more, visit Nostragamus.in

SHOW COMMENTS