IPL 2017 | संजू सैमसन और क्रिस मोरिस की पारी की वजह से पुणे को मिली शिकस्त

no photo
 |

IPL 2017 | संजू सैमसन और क्रिस मोरिस की पारी की वजह से पुणे को मिली शिकस्त

संजू सैमसन के शानदार शतक और क्रिस मोरिस के नौ गेंदों में 38 रनों की पारी की बदौलत दिल्ली डेयरडेविल्स ने 205 रन बनाए और आईपीएल के नौवें मुकाबले में राइजिंग पुणे को हराकर 97 रनों से जीत दर्ज की। कप्तान स्टीव स्मिथ के बिना उतरी पुणे की टीम महज 108 रन ही बना सकी, ये सीरीज में उनकी दूसरी हार है।

Brief scores: Delhi Daredevils 205/4 (Sanju Samson 102, Chris Morris 38*; Imran Tahir  1/24, Deepak Chahar 1/35) beat Rising Pune Supergiant 108/10 (Mayank Agarwal 20, Rajat Bhatia 16; Zaheer khan 3/20, Amit Mishra 3/11) by 98 runs.

आज के मुकाबले के लिए कप्तान बने अजिंक्य रहाणे ने टाॅस जीतकर पहले क्षेत्ररक्षण करने का फैसला किया। राइजिंग पुणे सुपरजायंट्स के कप्तान स्टीव स्मिथ पेट की परेशानी की वजह से आज का मुकाबला खेलने नहीं उतरे, उनकी जगह टीम में फाफ डू प्लेसिस को मौका मिला है। साथ ही एडम जम्पा और राहुल त्रिपाठी टीम में आए, मनोज तिवारी को अपने पिता के देहांत की वजह से बाहर होना पड़ा। दिल्ली की टीम में कार्लोस ब्रेथवेट की जगह कोरी एंडरसन को मौका मिला। 

दिल्ली की अच्छी शुरूआत के बाद पुणे ने की वापसी

पुणे को बेहतरीन शुरूआत मिली, अशोक डिंडा ने अपने पहले ओवर में सिर्फ 1 ही रन दिया और दीपक चाहर ने अदित्य तारे का विकेट लिया। लेकिन उसके बाद क्रीज पर आए संजू सैमसन ने चाहर की दों गेंदों को लगातार बाउंड्री के लिए भेज दिया। दिल्ली ने पावरप्ले ओवर में 62 रन हासिल कर लिए थे, इसके बाद स्टैंड-इन कप्तान रहाणे ने पुणे को जरूरी सफलता दिलाने की उम्मीद से इमरान ताहिर को गेंद थमाई। ताहिर ने कप्तान के भरोसे को कायम रखते हुए अपने पहले ओवर में सिर्फ चार रन दिए और उसके बाद सैम बिलिंग्ज़ का विकेट निकाला। पुणे एक बार फिर मुकाबले में वापस आ गया था और इसका श्रेय जाता है एडम जम्पा और ताहिर को जिन्होंने दिल्ली को नियंत्रित करने का प्रयास किया। दिल्ली डेयरडेविल्स 10 ओवर की समाप्ति पर 2 विकेट के नुकसान पर 88 रन ही बना पाई थी।

सैमसन और मोरिस ने दिल्ली का स्कोर 200 के पार पहुंचाया

ऋषभ पंत ने स्कोर जल्द आगे बढ़ाने का फैसला किया और उन्होंने जम्पा की गेंद को गेंदबाज के उपर से सीधा बाउंड्री के लिए भेजा, उन्होंने रजत भाटिया के अगले ओवर में भी दो बड़े शाॅट्स खेले। लेकिन ताहिर दोबारा मोर्चा संभालने के लिए आ गए। सैमसन और पंत ने रन बनाने की रफतार को धीमा किया। लेकिन पंत लंबे वक्त तक मैदान में रूक नहीं पाए, मयंक अग्रवाल के बेहतरीन थ्रो ने उन्हें पवैलियन लौटा दिया। 16वें ओवर में पुणे की टीम दिल्ली को 129 के स्कोर तक रोक चुकी थी लेकिन उसके बाद शुरू हुआ संजू सैमसन का शो, जिसने मुकाबले का रूख एक बार फिर दिल्ली की तरफ मोड़ दिया। 50 गेंदों में 67 रन बनाकर खेल रहे 22 वर्षीय इस खिलाड़ी ने बड़े शाॅट्स लगाने शुरू किए और महज 63 गेंदों में अपना पहला आईपीएल शतक दर्ज किया। मगर इसकी अगली ही गेंद पर वो आउट हो गए और मैदान पर आए क्रिस मोरिस, जिन्होंने मात्र नौ गेंदों में 38 रन बनाकर दिल्ली का स्कोर 20 ओवर की समाप्ति पर 205 तक पहुंचा दिया। गौरतलब है कि मौजूदा आईपीएल सत्र में ये पहला मौका है जब किसी टीम ने 200 से अधिक स्कोर किया हो।

कप्तान जहीर ने साबित की अपनी महत्ता

लक्ष्य का पीछा करने उतरी पुणे की टीम ने अच्छी शुरूआत करते हुए पहले दो ओवर में 17 रन बनाए लेकिन ज़हीर खान के आते ही उनका ये सफर मुश्किल हो गया। स्टैंड-इन कप्तान अजिंक्य रहाणे ने रन-रेट को बढ़ाने की कोशिश में जहीर की गेंद को हुक करने का प्रयास किया लेकिन गेंद टाॅप-एज लेकर सीधे सैमसन के हाथों में जा पहुंची। अगले ओवर में मयंक अग्रवाल के साथ भी कुछ ऐसा ही हुआ लेकिन इस बार कैच क्रिस मोरिस ने पकड़ा। पुणे ने अगले तीन ओवर में तीन विकेट गंवा दिए। त्रिपाठी, डू प्लेसिस और बेन स्टोक्स सस्ते में पवैलियन लौटे। 10 ओवर के बाद पुणे किसी तरह 68/5 के स्कोर पर पहुंच पाई, उस वक्त एमएस धोनी मैदान में थे। 

बिना किसी संघर्ष के ढहा पुणे का निचला क्रम

धोनी के प्रयास को उस वक्त विराम लग गया जब उनका हेलीकाॅप्टर शाॅट करूण नायर के हाथों में जाकर लैंड हुआ। इसके बाद दिल्ली के लिए जीत दूर नहीं थी। चाहर ने जरूर पैट कमिन्स की गेंद पर लगातार दो छक्के लगाए लेकिन पुणे की टीम जीत की उम्मीदे से भी कोसों दूर पहुंच चुकी थी। जहीर खुद गेंदबाजी करने के लिए आए और 6 गेंदों में 14 रन बनाने वाले दीपक चाहर को पवैलियन भेजा। दिल्ली ने 16.1 ओवर में ही जीत दर्ज की और पुणे को टूर्नामेंट में लगातार दूसरी हार का सामना करना पड़ा।

SHOW COMMENTS