बांग्लादेश के खिलाड़ी ने अंपायर के फैसले पर विरोध जताने के लिए चार गेंदों में दिए 92 रन

no photo
 |

Getty Images

बांग्लादेश के खिलाड़ी ने अंपायर के फैसले पर विरोध जताने के लिए चार गेंदों में दिए 92 रन

अंपायर के फैसले का विरोध करने के लिए लालमटिया क्लब के गेंदबाज सुजोन महमूद ने चार वैध गेंदे कराईं और उन्हें 92 रन पड़े। ढाका सेकेंड डिविजन क्रिकेट लीग में ये काफी विवादित मुकाबला रहा।

एग्जोम क्रिकेटर्स ने पहले लालमटिया क्लब को बल्लेबाजी के लिए बुलाया, जिन्होंने 88 रन स्कोर किए। इस पारी के दौरान अंपायर ने कई विवादित फैसले दिए। जब इस स्कोर को डिफेंड करने की बारी आई तो महमूद ने सही गेंदबाजी ना करने का निर्णय किया। 

महमूद ने 15 नो बाॅल और 13 वाइड दिए और विपक्षी टीम ने पांच रन बनाए क्योंकि गेंद बाउंड्री के लिए चली गई। उसने सिर्फ चार वैध गेंदे कराई जिसमें उन्हें 12 रन पड़े, एग्जोम ने ये मुकाबला 10 विकेट से जीता।

लालमटिया क्लब के महासचिव अदनान रहमान दिपोन ने ढाका ट्रिब्यून को बताया कि ‘‘ये सब टाॅस से ही शुरू हुआ। कप्तान को सिक्का देखने भी नहीं दिया गया और उन्हें पहले बल्लेबाजी के लिए भेज दिया गया और... एक के बाद एक अंपायर के फैसले हमारे खिलाफ ही गए।’’

‘‘मेरे खिलाड़ी युवा है, जिनकी उम्र 17, 18 और 19 के करीब है। वो इस अन्याय को बर्दाश्त नहीं कर पाए और इसके खिलाफ प्रतिक्रिया देते हुए उन्होंने चार गेंदों में 92 रन दे दिए।’’

बहरहाल, ये पहला मौका नहीं है जब इस टूर्नामेंट में अंपायर के फैसले की आलोचना करते हुए खिलाड़ियों ने विरोध जताया हो। फियर फाइटर स्पोर्टिंग क्लब के गेंदबाज हसन ने सोमवार को अपनी नाराजगी जाहिर करने केे लिए सात गेंदों में 69 रन दिए थे।

अंतर्राष्ट्रीय मुकाबलों में एक ओवर में अधिकतम 36 रन गेंदबाज को पड़े हैं। वहीं आईपीएल में ये आंकड़ा 37 का है जो क्रिस गेल ने कोची टसकर्स के खिलाफ बनाए थे।

 © Dhaka tribune
SHOW COMMENTS