पैट कमिन्स: मैं ज़हीर खान को अपने साथ आॅस्ट्रेलिया ले जाना चाहता हूं

no photo
 |

BCCI

पैट कमिन्स: मैं ज़हीर खान को अपने साथ आॅस्ट्रेलिया ले जाना चाहता हूं

पैट कमिन्स ने ज़हीर खान की भारी प्रशंसा करते हुए कहा कि वो इस भारतीय के साथ खेलने का आनंद ले रहे हैं और वो उन्हें अपने साथ आॅस्ट्रेलिया ले जाना चाहते हैं। इससे पहले डेयरडेविल्स के गेंदबाजी कोच टीए शेखर ने खुलासा किया था कि कमिन्स कटर और धीमी गेंदे डालने की कला जहीर से सीख रहे हैं।

प्रतिकूल परिस्थितियों में अपनी क्षमता दिखाना और बल्लेबाजों की मन की बात को पहले ही जान लेने की काबिलियत के दम पर जहीर खान लंबे वक्त तक भारतीय पेस अटैक के अगुआ रहे। 39 वर्ष की उम्र में भी वो बिल्कुल फिट हैं और अब जहीर दिल्ली डेयरडेविल्स के युवा पेसरों को इस कला में निपुण बना रहे हैं।

स्टुअर्ट ब्राॅड, क्रिस मोरिस और नाथन कल्टर नाइल के बाद अब कमिन्स इस समूह से जुड़ गए हैं और उन्होंने जहीर की तारीफ करते हुए बताया कि उनके विकास में जहीर का काफी प्रभाव है।

कोलकाता नाइट राइडर्स से मुकाबला हारने के बाद पोस्ट-मैच काॅन्फ्रेन्स में पैट कमिन्स ने कहा, ‘‘काश मैं उन्हें (ज़हीर खान) अपने साथ आॅस्ट्रेलिया ले जा पाता। मैं उनके साथ खेलने का आनंद ले रहा हूं। ऐसा आमतौर पर नहीं होता है कि आप गेंदबाज को कप्तान के रूप में पाते है और जो इतने अनुभवी हों।’’

मौजूदा आईपीएल में कमिन्स और जहीर ने सात-सात विकेट हासिल किए हैं और इस आॅस्ट्रलियाई खिलाड़ी ने अपनी कामयाबी के पीछे जहीर का हाथ बताया और कहा कि कप्तान ने उन्हें अपने स्ट्रेंथ पर काम करते हुए गेंदबाजी करने की छूट दी।

कमिन्स ने बताया कि जहीर ने उनसे कहा, ‘‘आप याॅॅर्कर डालना चाहते हो, याॅर्कर डालो। आप बाउंसर कराना चाहते हो, आप बाउंसर डालो।’’

दो दिन पहले दिल्ली डेयरडेविल्स के कोच टीए शेखर ने कमिन्स के विकास में जहीर की महत्ता बताते हुए कहा था, ‘‘जहीर एक समझदार क्रिकेटर है और उसके टिप्स पूर्व में गेंदबाजों के लिए मददगार रहे। इस बार कमिन्स ने उनसे कुछ चीजें सीखी हैं। जहीर कटर गेंदबाजी करने में माहिर है, जिसे बल्लेबाज आसानी से नहीं पढ़ पाते हैं।’’

‘‘जहीर जो लंबे वक्त से करते आ रहे हैं, आशीष नेहरा ने भी वो करना शुरू कर दिया है।’’

SHOW COMMENTS