कप्तानी से हटने के बाद अब एमएस धोनी बेहतर खिलाड़ी बनेंगे, सौरव गांगुली ने किया दावा

no photo
 |

FB

कप्तानी से हटने के बाद अब एमएस धोनी बेहतर खिलाड़ी बनेंगे, सौरव गांगुली ने किया दावा

सौरव गांगुली का मानना है कि एमएस धोनी कप्तानी से हटने के बाद एक बेहतर खिलाड़ी बनेंगे, अब उनके पास ज्यादा जिम्मेदारियों का बोझ नहीं है। बहरहाल, गागुली को अब भी टी20 में धोनी की काबिलियत पर शक है लेकिन उन्हें एकदिवसीय प्रारूप का चैंपियन बताया।

इंडिया टुडे को दिए इंटरव्यू में गांगुली ने कहा कि पूर्व भारतीय कप्तान को बल्लेबाजी क्रम में उपर आने का लाभ मिला है क्योंकि अब वो ज्यादा गेंदे खेल सकते हैं। गांगुली ने कहा, ‘‘उन्हें लगता था कि नंबर 6 पर वो ज्यादा उपयोगी हैं, मेरी राय इससे अलग है- जब आपके पास ज्यादा गेंदे होती है तब भी दबाव उतना ही होता है।’’

‘‘आप खुद को जिस तरीके से देखते हैं, कप्तान उसके दूसरे पहलू से देखता है। आपको एक ऐसे कप्तान की जरूरत है जो आपको आगे बढ़ाए। कप्तानी से हटने के बाद एमएस धोनी बेहतर खिलाड़ी बनेंगे।’’

आईपीएल के शुरूआती मुकाबलों में धोनी को संघर्ष करना पड़ा था और वो 5 पारियों में सिर्फ 61 रन बना पाए थे, लेकिन शनिवार को सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ 34 गेंदों में नाबाद 61 रनों की पारी खेलकर उन्होंने मैच जिताया था, वो बल्लेबाजी के लिए उपरी क्रम में आए थे।

गांगुली को धोनी के टी20 प्रारूप में काबिलियत को लेकर शक है क्योंकि उन्होंने क्रिकेट के इस छोटे प्रारूप में पिछले 10 सालों में सिर्फ एक अंतर्राष्ट्रीय अर्धशतक लगाया है। ‘‘मैं निश्चित तौर पर नहीं कह सकता हूं कि धोनी एक अच्छे टी20 खिलाड़ी हैं। वो एकदिवसीय क्रिकेट के चैंपियन खिलाड़ी हैं लेकिन जब बात टी20 क्रिकेट कि आती है तो इन दस सालों में उन्होंने सिर्फ एक अर्धशतक लगाया है और ये कोई अच्छा रिकाॅर्ड नहीं है।’’

शनिवार को धोनी द्वारा खेली शानदार पारी के बाद ‘दादा’ अपने बयान की वजह से आलोचनाओं का शिकार हो रहे थे लेकिन उन्होंने इसकी तुलना 2006 की उस घटना से की जब उन्हें भारतीय टीम से बाहर किया गया था। ‘‘एमएस धोनी ने उस तरह की फैन-फाॅलोइंग तैयार की है। लोग कहते हैं कि क्यों आप उनकी आलोचना करते हैं? ये मेरे लिए ठीक वैसा ही है जब मैं 2006 में बाहर किया गया था। मुझे इससे कोई परेशानी नहीं है।’’

SHOW COMMENTS