निकली आखिरी तारीख, चैंपियंस ट्राॅफी के लिए बीसीसीआई ने नहीं किया टीम का ऐलान

no photo
 |

Getty

निकली आखिरी तारीख, चैंपियंस ट्राॅफी के लिए बीसीसीआई ने नहीं किया टीम का ऐलान

चैंपियंस ट्राॅफी के लिए टीम का ऐलान करने की आखिरी तारीख 25 अप्रैल थी और बीसीसीआई इसे पार कर चुकी है और इस देरी के पीछे ‘आॅपरेशनल’ वजह दी है। बीसीसीआई सेके्रटरी और सीईओ आईसीसी की मिटिंग में रहे और कप्तान विराट कोहली आईपीएल खेल रहे हैं, दल के चुनाव के लिए सभी एक जगह नहीं मिल पाए हैं।

बीसीसीआई के एक अधिकारी ने ईएसपीएनक्रिकइंफो को बताया, ‘‘हमने आईसीसी को इस देरी के पीछे की वजह बता दी है। हमने कहा है कि हम इसका ऐलान जल्द ही कर देंगे।

वैसे इस देरी को बीसीसीआई की तरफ से आईसीसी के लिए एक संदेश माना जा रहा है कि वो चार साल में होने वाले इस इवेंट से अपना नाम वापस ले लेंगे अगर जून में होने वाली अगली मीटिंग तक वो उनके पुराने शेयर को बरकरार नहीं रखते हैं।

प्रस्तावित नए माॅडल के अनुसार बीसीसीआई के शेयर तकरीबन 570 मिलियन डाॅलर से घटकर 290 मिलियन डाॅलर हो जाएंगे। रिपोर्टों की माने तो आईसीसी ने इसे बढ़ाकर 400 मिलियन डाॅलर करने का आॅफर भी दिया लेकिन इस खेल की सबसे अमीर संस्था इसे मानने के लिए तैयार नहीं है।

अगर बीसीसीआई इस टूर्नामेंट से बाहर होना चाहता है तो लिखित रूप में एक पत्र आईसीसी को भेजना होगा लेकिन ना ही अमिताभ चाौधरी और ना ही सीईओ राहुल जौहरी के पास इंकार करने का पावर है। सिर्फ कमेटी आॅफ एडमिनिस्ट्रेशन के सदस्य ही मेंबर्स पार्टिसिपेशन अग्रीमेंट पर हस्ताक्षर कर सकते हैं।

मेंबर्स पार्टिसिपेशन अग्रीमेंट के मुताबिक, ‘‘दल 25 मई तक सबमिट करना होता है, उस तारीख से टूर्नामेंट का सपोर्ट पीरियड शुरू हो जाता है। सपोर्ट पीरियड के दौरान टीमें अभ्यास मुकाबलें खेलती है और 1 जून से टूर्नामेंट की बकायदा शुरूआत होगी।’’

कोई बोर्ड अगर डेडलाइन तक ऐसा करने में नाकाम हो जाती है तो इसके लिए कोई जुर्माना नहीं है, इस वजह से बीसीसीआई सुरक्षित जोन में नजर आता है।

SHOW COMMENTS