छत्तीसगढ़ के शहीदों को गंभीर का सहारा

no photo
 |

Getty

छत्तीसगढ़ के शहीदों को गंभीर का सहारा

गौतम गंभीर ने यह ऐलान किया है कि वह उन 25 CRPF के जवानों के बच्चों की ज़िम्मेदारी उठाएंगे जो सोमवार को छत्तीसगढ़ के दक्षिणी सुकमा में हुए नक्सल हमले में शहीद हुए हैं। अपने सामाजिक कार्यों के लिए जाने जाने वाले गंभीर ने कहा कि वह यह काम अपनी संस्था गौतम गंभीर फाउंडेशन के तहत करेंगे।

दोरनापाल-जगरगुंडा इलाके में सड़क निर्माण कार्य के दौरान सुरक्षा प्रदान करते हुए, दक्षिणी सुकमा के बुर्कपल कैंप के पास 25 जवान शहीद हो गए। यह पिछले सात सालों में सबसे वीभत्स हमला माना जा रहा है। इस अमानवीय हमले से आहत होकर गंभीर ने शहीदों के परिवार की मदद करने का निर्णय लिया है। 

"बुधवार को मैंने अखबार उठाया और दो CRPF के शहीद जवानों के बेटियों की तस्वीर से मेरा दिल पसीज गया। एक अपने पिता की शहादत को सलाम कर रही थी तो दूसरी बहवस रो रही थी," गंभीर ने हिंदुस्तान टाइम्स में अपने स्तंभ में लिखा।

बुधवार को राइजिंग पुणे सुपरजायंट के खिलाफ हुए मैच में, CRPF के जवानों को श्रद्धांजलि के तौर पर कोलकाता नाइट राइडर्स की पूरी टीम काला आर्मबैंड पहनी नज़र आई थी।

"गौतम गंभीर फाउंडेशन सभी शहीदों के बच्चों की शिक्षा का ध्यान रखेगा। मेरी टीम इसपर काम कर रही है और जल्द ही मैं इसके बारे में और जानकारी साझा करूँगा," उन्होंने लिखा।

गंभीर ने उस मैच में अर्ध शतक लगाया था, वहीं रोबिन उथप्पा के साथ 100 रनों की सांझेदारी भी कायम की थी। 

उन्होंने लिखा, "मैं सेना दल से बहुत प्रभावित रहता हूँ, अपने करीबी को किसी जंग में खो देने के दर्द की तुलना किसी मैच को हारने के दुःख से नहीं की जा सकती।"

SHOW COMMENTS