रिकी पोंटिंगः धोनी जैसे चैंपियन खिलाड़ी को अनदेखा नहीं किया जा सकता है

no photo
 |

BCCI

रिकी पोंटिंगः धोनी जैसे चैंपियन खिलाड़ी को अनदेखा नहीं किया जा सकता है

आलोचना का शिकार हो रहे एमएस धोनी को रिकी पोंटिंग के रूप में समर्थक मिला है, जिन्हें लगता है कि धोनी में दबाव को झेलने और शानदार वापसी करने की क्षमता है। पोंटिंग ने ये भी माना कि आगामी चैंपियंस ट्राॅफी टूर्नामेंट में धोनी का अनुभव काम आएगा।

मौजूदा आईपीएल में धोनी की फाॅर्म लोगों के आलोचना का शिकार बनी। वैसे धोनी ने अपनी टीम के लिए दो मौकों पर अच्छा प्रदर्शन किया। धोनी अपनी निरंतरता को बरकरार नहीं रख पाए जिसकी वजह से लोग छोटे प्रारूप में उनकी क्षमता को लेकर सवाल खड़े कर रहे हैं।

रिकी पोंटिंग राइजिंग पुणे सुपरजायंट्स के पूर्व कप्तान धोनी के समर्थन में आगे आए हैं।

पोंटिंग ने क्रिकेट.काॅम.एयू से कहा, ‘‘मुझे लगता है इतने लंबे अर्से से उन्हें जो कामयाबी मिली है ये उसका नकारात्मक पहलू है। मैं खुद भी उस स्तर पर रहा हूं और जब आप थोड़ा गिरते हैं तो आलोचनाओं का दौर शुरू हो जाता है। देखा जाए तो पिछले 15 या 20 सालों में उतनी नकारात्मकता नहीं आई है। इसलिए ये देखना दिलचस्प होगा कि आने वाले सप्ताह में वो इसका सामना किस तरह से करते हैं।’’

उन्होंने ग्लेन मैकग्रा और शेन वाॅर्न का उदाहरण देते हुए सावधान किया कि चैंपियन खिलाड़ियों को नजरअंदाज नहीं करना चाहिए। उन्होंने कहा, ‘‘इस खेल में चीजे तुरंत बदल सकती हैं और मैंने इस खेल से एक बात सीखी है कि चैंपियंस खिलाड़ियों को दरकिनार नहीं करना चाहिए। वो हमेशा वापसी करने के लिए रास्ता ढंूढ लेते हैं। ऐसा मैकग्रा और वाॅर्न के साथ हो चुका है और ये सभी महान खिलाड़ी है और मैं खुशकिस्मत हूं कि मुझे इनके साथ खेलने का मौका मिला। वो अपने लिए रास्ता बना लेगा और अपनी टीम के लिए मुकाबले भी जीतेगा।’’

इस आईपीएल सत्र का आगाज हैरान करने वाली खबर के साथ हुआ था कि एमएस धोनी को राइजिंग पुणे सुपरजयांट्स की कप्तानी से हटा दिया गया है, इस पर पोंटिंग ने कहा कि धोनी के लिए ये आईपीएल का आखिरी सत्र हो सकता है।

42 वर्षीय इस खिलाड़ी ने कहा, अगर आप धोनी और उनके उम्र को देखेंगे तो उस हिसाब से ये उनका आखिरी आईपीएल हो सकता है। लेकिन मेरे ये कहने का कोई आधार नहीं है। अगर वो अंत तक नहीं पहुंचे हैं तो उन्हें कप्तानी से हटाने का ये बिल्कुल अजीब समय था। जाहिर है उन्हें लगता है कि उन्होंने जो फैसला लिया है वो टीम के लिए सही है और स्टीव स्मिथ को इसकी जिम्मेदारी देना ठीक है।’’

साथ ही आॅस्ट्रेलिया के इस खिलाड़ी ने माना कि धोनी का अनुभव चैंपियंस ट्राॅफी टूर्नामेंट में विरोधी 7 टीमों के खिलाफ मायने रखेगा।

पोंटिंग ने कहा, ‘‘मेरे ख्याल से भारतीय टीम के वो अहम खिलाड़ी बन सकते हैं, खासतौर से अपने अनुभव के आधार पर वो मदद कर सकते हैं। मध्यक्रम में बल्लेबाजी करने वाले वो एक ऐसे खिलाड़ी हैं जो एकदिवसीय मुकाबलों में पारी को नियंत्रित कर सकते हैं। और इंग्लैंड में आपको इसी की जरूरत है।’’

SHOW COMMENTS