सुनील गावस्कर: दो पारियों में 75 ओवरों के अंदर आउट हो जाना ठीक बात नहीं है

no photo
 |

© Getty Images

सुनील गावस्कर: दो पारियों में 75 ओवरों के अंदर आउट हो जाना ठीक बात नहीं है

पुणे में आॅस्ट्रेलिया के खिलाफ 333 रनों से मिली हार को सुनील गावस्कर ने टेस्ट क्रिकेट में भारत की सबसे खराब हार बताया और वापसी करने की क्षमता की कमी की भी उन्होंने आलोचना की। उन्होंने आॅस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों को स्मार्ट क्रिकेट खेलने का श्रेय दिया, जिसकी वजह से वो सीरीज में 1-0 से आगे हैं।

आॅस्ट्रेलियाई टीम ने तीसरे दिन के आखिरी सत्र में ही भारतीय पारी को समेट दिया। भारतीय टीम पहली पारी में 41 ओवर में ही ढह गई थी तो वहीं दूसरी पारी में वो सिर्फ 34 ओवर तक ही मैदान में टिक पाए। गावस्कर के मुताबिक टेस्ट मुकाबले में सिर्फ 75 ओवर बल्लेबाजी करना टीम के लिए सही नहीं है।

गावस्कर ने एनडीटीवी से कहा, ‘‘मुझे याद नहीं है कि कब भारत 2 और आधे दिन में ही हार गया था। जिस तरह से भारत ने आॅस्ट्रेलियाई स्पिन गेंदबाजों का सामना किया है वो हैरानी भरा है। भारतीय टीम द्वारा संघर्ष ना दिखा पाने की वजह से मैं निराश हूं। दो पारियों में 75 ओवरों में आउट हो जाना ठीक नहीं है। ये भारत की अब तक की सबसे खराब हार है।’’

‘‘यकीन नहीं होता है कि चाय के बाद सिर्फ आधे घंटे में ही टीम निपट गई। भारतीय थोड़े लापरवाह होते हैं। भारतीय बल्लेबाजों को ये समझना चाहिए कि उन्हें विकेट पर वक्त बिताना होगा।’’

‘‘पिच से वाकिफ ना होने के बावजूद, आॅस्ट्रेलियाई टीम का संघर्ष देखना शानदार था। इसका श्रेय मैट रेनशाॅ और स्टीव स्मिथ को जाता है।’’

गावस्कर ने कहा, ‘‘आॅस्ट्रेलिया ने वाकई स्मार्ट क्रिकेट का प्रदर्शन किया। स्टीव स्मिथ ने कप्तानी पारी खेली और ये टेस्ट मैच में लगे बेहतरीन शतक में से एक था।’’

SHOW COMMENTS