भारत बनाम इंग्लैंड। इंग्लैंड ने सांत्वना के तौर पर जीता तीसरा एकदिवसीय मुकाबला

no photo
 |

© BCCI

भारत बनाम इंग्लैंड। इंग्लैंड ने सांत्वना के तौर पर जीता तीसरा एकदिवसीय मुकाबला

विराट कोहली की अगुवाई में भारत को घरेलू मैदान कोलकाता में इंग्लैंड के खिलाफ हुए तीसरे एकदिवसीय मुकाबले में हार मिली। जेसन राॅय, जाॅनी बेयरस्टो और बेन स्टोक्स के अर्धशतक की बदौलत इंग्लैंड ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 321 रन बनाए।

स्कोरकार्डः इंग्लैंड 321/8, 50 ओवर में (जेसन राॅय 65, बेन स्टोक्स 57(नाबाद); हार्दिक पांड्या 3-49) बनाम भारत 316/9 (केदार जाधव 90, हार्दिक पांड्या 56; जैक बाॅल 56/2, क्रिस वोक्स 75/2)

सलामी बल्लेबाज़ों ने इंग्लैंड को दी अच्छी शुरूआत

ईडन गार्डन की पिच पर हल्की घास देख चुके विराट कोहली ने टाॅस जीतने के बाद पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया। मजबूत बल्लेबाजों से सजी इंग्लैंड की टीम ने अच्छी शुरूआत की। इसका श्रेय जाता है जेसन राॅय को जिन्होंने 56 गेंदों में 65 रन बनाए और सैम बिलिंग्स ने ओडीआई टीम में वापसी के बाद 35 रन स्कोर किए। इनके बीच पहले विकेट के लिए 98 रन की साझेदारी हुई।

पहले पावरप्ले में इंग्लैंड ने 43 रन स्कोर किए, जो इस सीरीज़ में उनका अब तक का सबसे निम्नतम स्कोर है। भारत की तेज़ गेंदबाज़ जोड़ी भुवनेश्वर कुमार और हार्दिक पांड्या ने बाउंस और मूवमेंट का अच्छा इसतेमाल किया। खासतौर से राॅय के खिलाफ जो इस पिच पर टिकने की कोशिश कर रहे थे। पहले ही ओवर में उन्हें दो बार बाउंसर डाला गया।

 © BCCI

बिलिंग्स ने पांड्या के ओवर में लगातार तीन गेंदे बाउंड्री के लिए भेजी और इंग्लैंड मुकाबले में अपने आप को स्थापित करता नज़र आया। पांड्या ने सही लाइन और लेंथ में गेंदबाजी करके वापसी करने की कोशिश की। विकेट ना मिल पाने की स्थिति में कोहली जसप्रीत बुमराह को गेंदबाजी के लिए लेकर आए। लेकिन दोनों ही बल्लेबाज़ बड़ी आसानी से गैप ढूंढने में सफल हो रहे थे। बाएं हाथ के स्पिन गेंदबाज़ रविन्द्र जडेजा के आने पर भारत को बिलिंग्स और राॅय के रूप में जल्द ही दो सफलताएं मिली और इंग्लैंड का स्कोर 20 ओवर में 110/2 पर पहुंचा।

नीचले क्रम के बल्लेबाज़ों की मदद से इंग्लैंड पहुंचा 321/8 के स्कोर पर

इंग्लैंड के कप्तान ईयोन मोर्गन और चोटिल जो रूट के स्थान पर आए जाॅनी बेयरस्टो ने एक-एक रन लेकर स्कोरकार्ड को चालू रखा। बेयरस्टो को एक रिप्रिव्यू मिला जब थर्ड मैन की तरफ गेंद पकड़ी गई थी लेकिन रिप्ले के मुताबिक बुमराह ने क्रीज से बाहर कदम रख दिया था। भारत के लिए स्थिति खराब मोर्गन ने की जिन्होंने फ्री हिट गेंद को छक्के के लिए भेज दिया। इस जोड़ी ने 60 गेंदों में 50 रनों की साझेदारी की। 

आखिरकार पांड्या को मोर्गन का विकेट हासिल हुआ। 43 रनों पर खेलते हुए वो गेंद सीधे बुुमराह के हाथों में पहुंची। जोस बटलर ज्यादा देर तक क्रीज पर नहीं रूक पाए। पांड्या ने उनका विकेट लेकर इंग्लैंड का स्कोर 212/4 पर पहुंचा दिया।

बेन स्टोक्स ने पारी को आगे बढ़ाते हुए भुवनेश्वर कुमार की गेंदों की धुलाई की और टीम का स्कोर 300 के पार पहुंचाया। स्टोक्स ने 34 गेंदों में अपना अर्धशतक पूरा किया और इंग्लैंड ने 50 ओवर में 321/8 का स्कोर खड़ा किया और भारत को ईडन गार्डन के दूसरे बड़े स्कोर का पीछा करने का लक्ष्य दिया।

भारतीय ओपनर हुए फिर फेल

एकदिवसीय टीम में वापसी करके चैंपियंस ट्राॅफी दल में शामिल होने का लक्ष्य बनाकर उतरने वाले अजिंक्य रहाणे इंग्लैंड के तेज गेंदबाजों के सामने नहीं खड़े हो पाए और डेविड विली का शिकार बने। रहाणे के जोड़ीदार केएल राहुल भी टीम को अच्छी शुरूआत देने में नाकाम रहे और 11 रन बनाकर जैक बाॅल का शिकार बने और भारतीय टीम 6 ओवर में 37/2 के स्कोर पर पहुंच गई।

प्रशंसकों की नज़रे विराट कोहली पर जा टिकी, ‘चेज़मास्टर’ ने भी उन्हें नाउम्मीद नहीं किया। मैदान के चारों तरफ गेंदों को बाउंड्री के लिए भेज कर उन्होंने इंग्लिश गेंदबाजों का चैन छीन लिया। 35 पर विराट का कैच भी छूटा लेकिन भारतीय कप्तान के अर्धशतक के बाद ही इंग्लिश टीम ने कोहली का विकेट लेकर राहत की सांस ली और टीम इंडिया 102/3 के स्कोर पर पहुंच गई।

कटक का जादू नहीं चला पाए धोनी-युवी

जबर्दस्त शाॅट खेल रहे युवराज सिंह अच्छे फाॅर्म में नजर आ रहे थे लेकिन वो 45 रन बनाकर आउट हुए। भारत की समस्या उस वक्त और बढ़ गई जब धोनी सिर्फ 25 रन बनाकर पवैलियन लौट गए।

इंग्लैंड के दबाव को केदार जाधव और हार्दिक पांड्या ने कम करने की काफी कोशिश की। दोनों ही खिलाड़ियों ने क्रीज पर जमने के बाद अपने-अपने अर्धशतक पूरे किए और भारत को वापस मुकाबले में ले आए। जीत की तरफ बढ़ रही टीम को उस वक्त झटका लगा जब पांड्या को बेन स्टोक्स ने पवैलियन भेजा और भारत का स्कोर 277/6 पर पहुंचा दिया। जडेजा ने दो चैके लगाकर उपयोगी पारी खेलने की कोशिश की। लेकिन जब उनका विकेट गिरा तब भारत जीत से 31 रन दूर था। 6 गेंदों पर 16 रनों की जरूरत थी, केदार जाधव ने इस जीत के अंतर को कम किया। जब 2 गेंदों पर 6 रनों की दरकार थी तब इंग्लैंड को जाधव का विकेट मिला और आखिरी गेंद भुवनेश्वर कुमार खेल नहीं पाए। इस दौरे पर इंग्लैंड को पहली जीत हासिल हुई है।

Who will win the TNPL?

Presenting Nostragamus, the first ever prediction game that covers all sports, including Cricket. Play the TNPL challenge and win cash prizes daily!!

Download the app for FREE and get Rs.20 joining BONUS. Join 30,000 other users who win cash by playing NostraGamus. Click here to download the app for FREE on android!

SHOW COMMENTS