देखें | उमेश यादव ने ग्लेन मैक्सवेल के बल्ले के दो टुकड़े किये

no photo
 |

© BCCI

देखें | उमेश यादव ने ग्लेन मैक्सवेल के बल्ले के दो टुकड़े किये

दूसरे दिन की पहली ही गेंद में, उमेश यादव की गेंद को खेलते हुए, मैक्सवेल का बल्ला दो टुकड़ों को टूट गया। टेस्ट में वापसी को शतक से सुसज्जित करने वाले ऑस्ट्रेलियाई इस व्याख्या के बाद मुस्कुराते नज़र आये और ड्रेसिंग रूम से 12वे खिलाड़ी को दूसरा बल्ला लाने को कहा।

जब आप लम्बे कार्य काल से वाकिफ नहीं होते, तो टेस्ट मैच की लम्बी पारियां खेलना आसान नहीं होता। हम ग्लेन मैक्सवेल की नहीं, उनके बल्ले की बात कर रहे हैं। प्रतिभाशाली ऑस्ट्रेलियाई हरफनमौला खिलाड़ी अपने कई गुणों के लिए जाने जाते हैं लेकिन जो गुण उनमें नहीं है वह है सैयम के साथ टेस्ट खेलना।

मिच मार्श के चोटिल होने के कारण, मैक्सवेल टेस्ट टीम में दो साल के अंतराल के बाद वापसी कर पाए हैं। ऑस्ट्रेलिया जब 140/4 के स्कोर पर थी तब वह बल्लेबाजी करने मैदान में उतरे और स्टीव स्मिथ के साथ एक अच्छी पारी खेली। पहले दिन के अंत तक, मैक्सवेल 147 गेंदों में 82 रन बना चुके थे।

दूसरे दिन के पहली गेंद में, मैक्सवेल का बल्ला, हालांकि, जवाब दे गया। वह उमेश यादव की डिलीवरी रोकना चाहते थे, लेकिन ऐसा करते हुए उनका बल्ला टूट गया। इस व्याख्या के बाद ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी मुस्कुराते नज़र आये और ड्रेसिंग रूम से 12वे खिलाड़ी को दूसरा बल्ला लाने को कहा।

नया बल्ला शायद वही था जिसका इस्तेमाल वह मर्यादित खेलों के लिए करते हैं, क्योंकि इस बल्ले के आते ही उन्होंने तेज़ी से स्कोर करना शुरू किया। 38 गेंद खेलने के बाद रविन्द्र जडेजा की गेंद पर उन्हें पवेलियन लौटना पड़ा। हालांकि तब तक मैक्सवेल शतक जड़ चुके थे और मुकाबले में ऑस्ट्रेलिया की स्थिति मज़बूत भी कर चुके थे।

SHOW COMMENTS