डेरेन लेहमनः पहली पारी उतनी बड़ी नहीं थी

no photo
 |

Getty

डेरेन लेहमनः पहली पारी उतनी बड़ी नहीं थी

डेरेन लेहमन ने कहा कि आॅस्ट्रेलिया अपनी पहली पारी में 50 से 100 रन और बना लेता तो वो इस मुकाबले में बना रहता। पूर्व आॅस्ट्रेलियाई बल्लेबाज ने विकेटकीपर मैथ्यू वेड का साथ दिया, जिन्होंने रिद्धिमान साहा का कैच छोड़ दिया था और जिसने बाद में उसे शतक में तब्दील कर दिया।

कप्तान स्टीव स्मिथ और ग्लेन मैक्सवेल के शतक के बाद भी मेजबान टीम ने आॅस्ट्रेलिया को 451 रनों पर रोक दिया और भारत ने चेतेश्वर पुजारा के दोहरे शतक और रिद्धिमान साहा के शतक के बाद 603/9 के स्कोर पर पारी घोषित की।

लेहमन ने न्यूज काॅन्फ्रेंस में कहा, ‘‘हमें पहली पारी में थोड़े और वक्त तक बल्लेबाजी करने की जरूरत थी। इस तरह की विकेट पर 500, 550 रन होने चाहिए थे। है कि नहीं? 150 से ज्यादा ओवर तक बल्लेबाजी करना था। हम 50-60 रन और 15 या 20 ओवर पीछे रह गए। यही इस समूह के लिए एक बड़ी चुनौती है और उन्हें ये सुनिश्चित करना होगा कि इस तरह की स्थिति में बड़े स्कोर खड़े किए जाए।’’

‘‘ऐसी ही समस्या इंग्लैंड के साथ हुई थी। अब हम खुद को उस स्थिति में पा रहे हैं जहां हमें मुकाबला बचाने के लिए आखिरी दिन संघर्ष करना होगा।’’

आॅस्ट्रेलिया ने मुकाबले के दौरान कैच भी छोड़े, जिसमें वेड द्वारा साहा का कैच छोड़ा गया जब वो 51 के स्कोर पर थे। कोच ने कहा, ‘‘वेडी काफी अच्छा रहा है... उसे खुद देखना चाहिए और रिव्यू करना चाहिए कि वो कहां गलत है। वो मुश्किल विकेट में भी पूरी सीरीज के दौरान शानदार रहा।’’

SHOW COMMENTS