सौरव गांगुली: स्टार्क की गैर-मौजूदगी की वजह से अश्विन और ल्योन प्रदर्शन नहीं कर पाए

no photo
 |

© FACEBOOK

सौरव गांगुली: स्टार्क की गैर-मौजूदगी की वजह से अश्विन और ल्योन प्रदर्शन नहीं कर पाए

सौरव गांगुली का मानना है कि रांची में हुए तीसरे टेस्ट में मिचेल स्टार्क की गैर-मौजूदगी की वजह से आॅफ-स्पिनर रविचंद्रन अश्विन और नेथन ल्योन प्रभावित नहीं कर पाए। बैंगलोर में हुए दूसरे टेस्ट के दौरान दाएं पैर में हुए गंभीर फ्रैक्चर की वजह से स्टार्क को वापस लौटना पड़ा।

गांगुली ने अपनी बात रखते हुए कहा कि अश्विन और उनके आॅस्ट्रेलियाई समकक्ष को रांची में आॅफ-स्टंप के बाहर निशान की कमी की वजह से संघर्ष करना पड़ा। आमतौर पर बाएं हाथ के तेज गेंदबाज इस तरह के कठोर निशान दाएं हाथ के बल्लेबाज के आॅफ स्टंप के बाहर बनाते हैं जिसका फायदा बाद में आॅफ-स्पिनर उठा सकें।

ये दोनों गेंदबाज मिलकर सिर्फ तीन विकेट निकाल सकें और इस दौरान इन्हें 348 रन पड़े।

पीटीआई के मुताबिक गांगुली ने कहा, ‘‘आॅफ-स्पिनरर्स को यहां विकेट नहीं मिले। ऐसा इसलिए क्योंकि मिचेल स्टार्क यहां मौजूद नहीं थे, इस वजह से आॅफ-स्टंप के बाहर रफ पैच तैयार ही नहीं हुआ।’’

पांचवें दिन की शुरूआत में स्टीव स्मिथ और मैट रेनशाॅ का विकेट गिरने के बाद मुकाबला भारत के नियंत्रण में नजर आ रहा था। बाॅर्डर गावस्कर सीरीज में बढ़त बनाने के लिए उन्हें सिर्फ 6 विकेट की जरूरत थी। लेकिन पीटर हैंडस्कोम्ब और शाॅन मार्श ने 124 रन की साझेदारी करके इस मुकाबले को ड्राॅ करा दिया।

जब गांगुली से इस साझेदारी के बारे में पूछा गया तो उन्होंने जवाब दिया, ‘‘वो काफी अच्छा खेलें।’’

SHOW COMMENTS