हर्षा भोगले: भारत बनाम ऑस्ट्रेलिया की यह शृंखला क्रिकेट में कड़वाहट घोलने के लिए याद की जाएगी

no photo
 |

Getty Images

हर्षा भोगले: भारत बनाम ऑस्ट्रेलिया की यह शृंखला क्रिकेट में कड़वाहट घोलने के लिए याद की जाएगी

दिग्गज कमेंटेटर और समीक्षक ने भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच चल रहे बॉर्डर गावस्कर सीरीज को लेकर अपनी नाखुशी ज़ाहिर की है। भोगले का मानना है कि यह शृंखला सभी प्रकार की बुरी यादों के लिए जानी जाएगी। हालांकि वह चाहते हैं इन सब में क्रिकेट की ही जीत हो।

वैसे तो भारत बनाम ऑस्ट्रेलिया टेस्ट सीरीज काफी दिलचस्प रहा है, लेकिन हर्षा भोगले का कहना है कि यह शृंखला दो देशों के बीच की कड़वाहट के लिए ज्यादा और क्रिकेट के लिए कम याद रहेगी। इस सीरीज में कुछ दुर्भाग्यपूर्ण घटनाएँ हुई हैं जिससे खेल की छवि खराब हुई है।

पहले, DRS विवाद हुआ जिसमें स्मिथ और कोहली शामिल हुए और वैसे तो इस मामले को ICC ने नियंत्रण में लिया लेकिन अब भी छोटे छोटे विवाद उठ रहे हैं। और अब, तीसरे टेस्ट में, मैक्सवेल द्वारा चोटिल विराट कोहली का मज़ाक उड़ाए जाने और डेविड वार्नर के आउट होने पर कोहली के असामान्य जश्न एक बार फिर ख़बरों में रहा।

हर्षा ने इस मुद्दे पर अपने विचार ट्विटर पर व्यक्त किये हैं, और कहा है कि ऑस्ट्रेलिया में मौजूद उनके कुछ दोस्तों का मानना है कि इस शृंखला को सभी बुरी बातों के लिए याद किया जायेगा।

भोगले की माने, तो ऐसी वारदातों की वजह से क्रिकेट की छवि बिगडती है, क्योंकि लोग इसके बारे में बात करते हैं, इन घटनाओं को बार बार देखते हैं। भोगले का मानना है कि इन घटनाओं से खिलाड़ियों का ध्यान भी भटकता है और गलत चीज़ों पर आ जाता है।

बाकी सभी की तरह, दिग्गज क्रिकेट कमेंटेटर का भी यही मानना है कि इस शृंखला में क्रिकेट ही विजयी बनकर उभरे ताकि सभी नकारात्मक घटनाएँ दब सके। यह सीरीज अभी 1-1 की बराबरी पर है, और उम्मीद यही है कि इसका अंत सकारात्मक होगा।

भोगले के ट्वीट इस प्रकार हैं:-

SHOW COMMENTS