भारतीय टीम ने ऑस्ट्रेलिया पर नियम तोड़ने का आरोप लगाया

no photo
 |

Getty Images

भारतीय टीम ने ऑस्ट्रेलिया पर नियम तोड़ने का आरोप लगाया

भारतीय टीम ने ऑस्ट्रेलिया पर, दूसरे और तीसरे टेस्ट के दौरान, टीम के प्रबंधक गेविन डोवी और मीडिया प्रबंधक केट हचिनसन द्वारा 'नियम तोड़े जाने' और मीडिया को खबरें देने' का आरोप लगाया है। BCCI ने इस मामले में उपयोक्त अधिकारीयों से बात करने का निर्णय लिया है।

जहां भारत और ऑस्ट्रेलिया शृंखला में पहले से ही आक्रामक रुख अपनाए हुए हैं वहीं, मेजबानों ने मेहमानों पर नियम तोड़ने और मीडिया तक खबरें पहुंचाने का आरोप लगाया है। भारतीय टीम ने ऑस्ट्रेलिया के टीम प्रबंधक गेविन डोवी और मीडिया प्रबंधक केट हचिनसन पर, विराट कोहली द्वारा स्टीव स्मिथ के DRS की मांग के लिए ड्रेसिंग रूम से सुझाव लेने के निर्णय पर आपत्ति जताने के बाद, ऑस्ट्रेलियाई पत्रकार और मैच रेफरी क्रिस ब्रॉड के बीच बैठक के आयोजन कराने का आरोप लगा है।

BCCI अब इस मामले को उपयोक्त अधिकारियों के सामने पेश करेंगे। मंगलवार को भारतीय टीम के एक सदस्य ने टाइम्स ऑफ़ इंडिया से कहा, "बेंगलुरु टेस्ट के बाद, डोवी ब्रॉड से मिलने गए और उन्होंने उन्हें आश्वासन दिया कि वह स्मिथ के खिलाफ कोई कार्यवाही नहीं करेंगे। ब्रॉड ने ऑस्ट्रेलियाई टीम के प्रबंधक को इस बात का भी आश्वासन दिया कि यह पूरा मामला मैदानी अंपायर नायजेल लॉन्ग तक नहीं पहुंचेगा।"

लॉन्ग ने स्मिथ के मदद के लिए ड्रेसिंग रूम की तरफ देखने पर आपत्ति जताई थी, जिसके बाद कोहली ने खेल भावना के ना होने के कारण ऑस्ट्रेलियाई टीम की निंदा की थी। "डोवी ने फिर ऑस्ट्रेलियाई पत्रकार और ब्रॉड की मुलाकात करवाई और उन्हें ड्रेसिंग रूम मामले पर कार्यवाही होने या ना होने के बारे में बात करने को कहा।"

पत्रकार ने 17 मार्च, 2017 के शाम 4:14 बजे यह रिपोर्ट दिखाई : 'मैच अधिकारियों का मानना है कि आज हुए स्मिथ की यह घटना पहली बार है जब उन्होंने ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों को ड्रेसिंग रूम की तरफ मदद के लिए देखते हुए पाया है।'

जबकि कोहली ने ऑस्ट्रेलियाई टीम पर बार बार ड्रेसिंग रूम की तरफ देखने का आरोप लगाया था, भारतीय कैंप की नाराज़गी की वजह यह है कि पत्रकार ने मैच अधिकारियों के हवाले से खबर दी थी। "ब्रॉड ने ICC के नियम तोड़े हैं, और कोई इसकी जांच नहीं कर रहा," भारतीय टीम के सदस्य ने कहा।

इसके साथ भारतीय टीम को ऑस्ट्रेलियाई द्वारा नियम तोड़े जाने की प्रक्रिया में सबकी मिली भगत का और उनके मीडिया प्रबंधक के ऑस्ट्रेलियाई पत्रकारों तक ड्रेसिंग रूम की बातें पहुंचाने का भी बुरा लगा है।

"हर सत्र के अंत में, ऑस्ट्रेलियाई मीडिया प्रबंधक ड्रेसिंग रूम जाती हैं और टीम प्रबंधक से जानकारी लेती हैं। इसके बाद वह इन बातों को ऑस्ट्रेलियाई पत्रकारों तक पहुंचाती हैं। मिसाल के तौर पर, रांची में जब ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी विराट कोहली पर पैट्रिक फारहैट का नाम लेकर अपशब्दों का इस्तेमाल कर रहे थे, तब इन बातों को ना तो स्टंप माइक ने पकड़ा और ना ही विराट ने इनके बारे में कुछ कहा। लेकिन ऑस्ट्रेलियाई पत्रकार विराट से इसके बारे में पूछने लगे थे," टीम के सदस्य ने कहा।

SHOW COMMENTS