एमएस धोनी: मैं 2019 के विश्व कप के बाद भी आराम से खेल सकता हूँ

no photo
 |

Bcci

एमएस धोनी: मैं 2019 के विश्व कप के बाद भी आराम से खेल सकता हूँ

महेंद्र सिंह धोनी का मानना है कि वह 2019 के विश्व कप के बाद भी खेल सकते हैं अगर उन्होंने अपनी मौजूदा सेहत को बरक़रार रखा और चोट रही रहे तो, हालांकि उन्होंने यह भी माना कि दो सालों के अन्दर काफी कुछ बदल सकता है, खासकर भारतीय क्रिकेट टीम का समीकरण।

विजय हजारे ट्रॉफी के सेमी फाइनल तक अपनी कप्तानी में झारखण्ड टीम को पहुंचाने वाले, धोनी ने दिल्ली में एक समारोह में खेल के बारे में कुछ अहम बाते कही। जब उनसे पूछा गया कि वह कब तक देश के लिए खेलने वाले हैं, तो धोनी ने कहा कि ये बातें पहले से कही नहीं जा सकती क्योंकि बस एक चोट लगने से ही कभी कभी सन्यास लेना पड़ जाता है।

हालांकि, पत्रकारों ने चतुराई से सबसे अहम सवाल सबसे आखिर में पूछा जिसका बेहतरीन जवाब भी मिला।

जब उनसे पूछा गया कि क्या वह अगले विश्व कप में खेलेंगे, तब धोनी ने कहा कि यह 2017 है और दो सालों में काफी कुछ बदल सकता है, ख़ासकर भारतीय टीम का समीकरण। उन्होंने कहा कि एक क्रिकेटर के शरीर को 10 साल तक खेलने के बाद, काफी ध्यान देना पड़ता है, ठीक जैसे विंटेज कार की स्थिति होती है।

धोनी ने कहा, "कुछ 100% नहीं होता। वजह यह है कि दो साल का वक़्त एक लम्बा वक़्त होता है। इन दो सालों में काफी कुछ बदल सकता है, ख़ासकर भारतीय टीम का समीकरण। उसके बाद आप थोड़े विंटेज कार बन जाते हैं। आपका काफी ख्याल रखना पड़ता है।"

इसके साथ ही, धोनी ने यह भी कहा कि अगर वह चोटिल नहीं हुए तो वह अगला विश्व कप ज़रूर खेलेंगे और अगर स्थिति ऐसी ही रही, तो उसके बाद भी वह खेल सकते हैं। धोनी ने आखिर में कहा, "सब कुछ जैसा है उस हिसाब से तो यकीनन मैं खेल सकता हूँ। लेकिन, जैसा की मैंने कहा दो साल में काफी कुछ हो सकता है। हाँ, मैं इस वक़्त जैसा हूँ, उस हिसाब से मैं 2019 का विश्व कप खेलने के लिए तैयार हूँ।"

धोनी की बातों का भीड़ से बड़े जोश के साथ स्वागत किया, जिससे इतना तो पता चलता है कि वह अब भी लाखों दिलों में बसते हैं। अगर सच कहे तो, धोनी के हाल ही प्रदर्शनों से साफ़ है कि वह अब भी फॉर्म में हैं और जून में इंग्लैंड में होने वाले चैंपियंस ट्रॉफी में वह अच्छा योगदान कर सकते हैं। इस ट्रॉफी पर भारत की पकड़ बनाए रखने के लिए धोनी की भूमिका अहम होगी।

SHOW COMMENTS