पूर्व अंतर्राष्ट्रीय खिलाड़ियों ने विराट को दी चेतावनी, कड़वाहट को दिल से लगाकर ना रखे

no photo
 |

Getty

पूर्व अंतर्राष्ट्रीय खिलाड़ियों ने विराट को दी चेतावनी, कड़वाहट को दिल से लगाकर ना रखे

मार्क टेलर उन अंतर्राष्ट्रीय खिलाड़ियों में से एक है जिन्होंने विराट कोहली को आॅस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों के लिए किसी भी तरह की कड़वाहट संभाल कर ना रखने की सलाह दी है। डीन जोन्स ने कोहली से कहा कि खेल का मतलब सिर्फ जीत या हार नहीं है।

रोमांच के नजरिए से, हाल ही में भारत और आॅस्ट्रेलिया के दरम्यान खत्म हुई सीरीज में सारे फैक्टर मौजूद थे। पहले टेस्ट में आॅस्ट्रेलिया ने भारत को 333 रनों से शिकस्त दी। ये भारतीय क्रिकेट टीम के घरेलू सत्र में पहली टेस्ट हार थी। लेकिन उसके बाद भारत ने शानदार वापसी की और बाॅर्डर गावस्कर ट्राॅफी के शेष तीन में से दो मुकाबलों में जीत दर्ज की। मैदान से बाहर भी विवादों ने खूब सुर्खियां बटोरी।

धर्मशाला मुकाबले के बाद, कोहली से पूछा गया था कि क्या वो आॅस्ट्रेलियाई क्रिकेटरों से दोस्ताना व्यवहार अब भी रखेंगे, इसका जवाब देते हुए उन्होंने कहा, ‘‘नहीं, अब यह निश्चित रूप से बदल गया है। मुझे लगता है कि यह स्थिति पहले थी, लेकिन अब बिल्कुल भी वैसी नहीं रही। मैंने पहले टेस्ट से पहले जो बातें कहीं थीं, वह पूरी तरह से गलत साबित हुईं और आपने मुझे ऐसा कहते हुए दोबारा नहीं सुना होगा।’’

उनका ये बयान क्रिकेट जगत में चर्चा का विषय बन गया और अब कई पूर्व खिलाड़ी भारतीय कप्तान को सलाह दे रहे हैं कि वो खिलाड़ियों के लिए इतनी कड़वाहट ना रखें।

वाइड वल्र्ड ऑफ स्पोर्ट्स में अपने ब्लॉग में मार्क टेलर ने लिखा, ‘‘इन दिनों क्रिकेटर एक साथ और एक-दूसरे के खिलाफ दोनों तरीके से काफी क्रिकेट खेलते हैं। इसलिए आपको कड़वाहट पालने और इस तरह के बयान देने के बारे काफी सावधान रहना चाहिए।’’

उन्होंने कहा, ‘‘मैं हमेशा ही मैच के बाद विपक्षी टीम के साथ बात करता था। ऐसी भी सीरीज होती हैं, जब आप निराश होते हैं क्योंकि चीजें आपके हिसाब से नहीं हुईं होती या फिर आप खुश होते हैं क्योंकि चीजें आपके मुताबिक रहीं, लेकिन आपको इससे ज्यादा परिपक्व होना चाहिए।’’

पूर्व आॅस्ट्रेलियाई कप्तान डीन जोन्स ने उस वक्त कोहली का समर्थन किया था जब उन्हें सीरीज के दौरान आॅस्ट्रेलियाई मीडिया निशाना बना रही थी। उन्होंने ट्विटर पर लिखा, ‘‘विराट सीख जाएगा कि यह खेल सिर्फ जीत और हार के बारे में नहीं है बल्कि यह मित्रता के बारे में है, जिसमें आप खेलते हुए दोस्त बनते हैं।’’

सिर्फ आॅस्ट्रेलियाई खिलाड़ी ही नहीं इंग्लैंड के पूर्व खिलाड़ी और कमेंटेटर डेविड लॉयड ने कोहली को सचिन तेंडुलकर से सीख लेने की सलाह दी है। लॉयड ने ट्वीट किया, ‘‘इस युवा को बैठकर सचिन तेंडुलकर की बातें सुननी चाहिए जो इस बारे में काफी कुछ बता सकते हैं।’’

SHOW COMMENTS