राहुल द्रविड़ः ज़हीर खान को दिल्ली डेयरडेविल्स में वापस देखकर बहुत खुश हूं

no photo
 |

Getty

राहुल द्रविड़ः ज़हीर खान को दिल्ली डेयरडेविल्स में वापस देखकर बहुत खुश हूं

फिट होकर वापस आए ज़हीर खान को देखकर राहुल द्रविड़ काफी उत्साहित हैं। आगामी इंडियन प्रीमियर लीग में ज़हीर दिल्ली डेयरडेविल्स टीम की कप्तानी करेंगे। द्रविड़ का मानना है कि ज़हीर का अनुभव टीम के ड्रेसिंग रूम के माहौल को फायदा पहुंचाएगा, जो आईपीएल के लिए काफी महत्वपूर्ण है।

अप्रैल 2005 में सौरव गांगुली की अनुपस्थिति में राहुल द्रविड़ स्टैंड-इन कप्तान थे, जिन्होंने ज़हीर खान से उनकी तेज गेंदबाज के रूप में कम होते कौशल पर बात की थी। इस बातचीत से प्रेरित होकर ज़हीर वाॅस्टरशयर और न्यू रोड़ कंडिशनिंग प्रोग्राम के लिए पहुंचे जिसके बाद वो दोबारा उच्च स्तरीय तेज गेंदबाज के रूप में लौटे। ज़हीर एक बार फिर पूरी फिटनेस के बाद इंडियन प्रीमियर लीग में खेलने के लिए वापसी कर रहे हैं। और उनके लिए सकारात्मक बात ये है कि मेंटर के तौर पर उनके लिए वही शख्स मौजूद है जिनकी सलाह से उनके करियर में इतना बड़ा बदलाव आया।

ज़हीर को पूरी फिटनेस हासिल करते हुए देखकर द्रविड़ ने अपनी खुशी जाहिर की है और कहा कि वो जहीर को पसीना बहाते और आईपीएल के इस सत्र में वापसी करते हुए देखकर बेहद खुश हैं।

द्रविड़ ने क्रिकेटनेक्स्ट से कहा, ‘‘कप्तान के तौर पर जैक मैदान के अंदर और बाहर बहुत शानदार था। उसने काफी अच्छा नेतृत्व किया। और इस सत्र में हम उसे दोबारा पाकर काफी उत्साहित हैं और ये एक चुनौती भी बन सकता है क्योंकि लंबे वक्त से वो प्रतिस्पर्धात्मक क्रिकेट से दूर रहा है, मैं खुश हूं और उसे श्रेय देना चाहता हूं क्योंकि वो अपनी फिटनेस पर काम करने को लेकर राजी हुआ और वो फिट होकर इस सत्र में वापसी कर रहा है।’’

‘‘हमारी टीम में कई युवा है और हमें जहीर की जरूरत है क्योंकि उसके पास काफी अनुभव है। आईपीएल जैसे टूर्नामेंट में इसकी जरूरत है। वह युवाओं के लिये प्रेरणास्रोत भी है।’’ 

इस साल दिल्ली की टीम संतुलित नजर आती है लेकिन निजी कारण से जेपी ड्यूमिनी और उंगली की चोट की वजह से क्विंटन डी काॅक के बाहर हो जाने से मुश्किल हो सकती है। द्रविड़ ने इन अहम खिलाड़ियों के टूर्नामेंट से बाहर हो जाने पर निराशा जाहिर की। लेकिन उन्हें लगता है कि उनकी जगह पर आने वाले युवा खिलाड़ी अच्छा प्रदर्शन करेंगे।

उन्होंने कहा, ‘‘जेपी ड्यूमिनी और क्विंटन डि काॅक जैसे खिलाड़ियों का नहीं खेलना वाकई बड़ा झटका है। अगर ये चीजें नीलामी से पहले होती तो आसानी रहती क्योंकि फिर बेहतर रणनीति बनाई जा सकती थी लेकिन अब क्या कर सकते हैं। हमारे पास सैम बिलिंग्स जैसे प्रतिभाशाली खिलाड़ी हैं और उम्मीद है कि वो अच्छा प्रदर्शन करेंगे।’’

द्रविड़ ने आगे कहा, ‘‘हमारे पास कोरी एंडरसन और एंजेलो मैथ्यूज जैसे हरफनमौला खिलाड़ी हैं जिन्होंने उच्च स्तर पर खुद को साबित किया है। उम्मीद है कि वो जेपी की कमी पूरी करेंगे। लेकिन क्विंटन का नहीं खेलना बड़ा नुकसान है क्योंकि वह हमारा अहम बल्लेबाज था। हमने उसे इस सत्र के लिये तैयार किया था। लेकिन अब आप इसमें कुछ नहीं कर सकते हैं।’’

दिल्ली डेयरडेविल्स अपने अभियान की शुरूआत 8 अप्रैल को राॅयल चैलेंजर्स बैंगलोर के खिलाफ करेगा।

SHOW COMMENTS