देखें: ऋषभ पंत का हौसला बढ़ाकर सुरेश रैना ने जीते दिल

no photo
 |

BCCI

देखें: ऋषभ पंत का हौसला बढ़ाकर सुरेश रैना ने जीते दिल

अच्छा लगता है जब वरिष्ठ खिलाड़ी आगे आकर युवाओं का हौसला बढ़ाते हैं, फिर चाहे वह खिलाड़ी विरोधी पक्ष का ही क्यों न हो। सुरेश रैना ने गुरुवार को ऋषभ पंत का हौसला तब बढ़ाया, जब ऋषभ शतक जड़ने से तीन रनों से चूंक गए। जबकि उस मुकाबले में गुजरात की दुर्दशा की वजह ऋषभ ही थे।

पंत और संजू सैमसन ने मिलकर दिल्ली डेयरडेविल्स के लिए गुजरात लायंस के खिलाफ जीत हासिल की और टीम के लिए प्ले ऑफ में जगह पक्की की। 19 वर्षीय पंत ने 225.58 के दर से 97 रन बटोरे जिसमें 9 छक्के और 6 चौकें शामिल थे। हालांकि तीन रनों की कमी रहते हुए पंत बेसिल थम्पी की गेंद से आउट हो गए और शतक जड़ने से चूंक गए।

पंत उस पल में काफी निराश दिख रहे थे। हालांकि, रैना उस वक़्त उनके पास पहुँचे और उनका हौसला बढ़ाया।

"मेरे ख्याल से यह ऋषभ पंत का दिन था। संजू सैमसन के साथ मिलकर उन्होंने बेहतरीन पारी खेली। हमने हर तरह से उन्हें रोकने की कोशिश की - धीमी गेंद, योर्कर सब डाले - लेकिन वह रुके नहीं," रैना ने मैच के बाद कहा। "बाद में जाकर गेंद घूमने लगी थी, लेकिन उस वक़्त तक काफी देर हो चुका था। 206 (208) का स्कोर जीत के लिए काफी था, लेकिन हमारी गेंदबाजी कमज़ोर पद गयी। हमें टाई और ब्रावो के अनुभव की कमी खल रही थी।

"ऋषभ और संजू भारतीय टीम के भविष्य हैं। मैंने भी अच्छी बल्लेबाजी की लेकिन 20 रनों से पीछे रह गया। श्रेय तो संजू और ऋषभ को ही जाता है।"

SHOW COMMENTS