गंभीर ने याद किया NCA में बिताये गए मज़ेदार दिन

no photo
 |

BCCI

गंभीर ने याद किया NCA में बिताये गए मज़ेदार दिन

गौतम गंभीर को पुराने दिन याद आ गए जब वह चिन्नस्वामी स्टेडियम में KKR और RCB की भिड़ंत की तैयारी कर रहे थे। उन्होंने बैंगलोर के नेशनल क्रिकेट अकादमी में बिठाये गए मज़ेदार दिनों को याद किया। कप्तान ने अपने कुछ मज़ेदार और यादगार लम्हों को साझा किया।

साल 2000 में, गौतम गंभीर नेशनल क्रिकेट अकादमी के इनौग्रल बैच का हिस्सा थे। गंभीर ने NCA में कुछ बेहतरीन खिलाड़ियों के साथ समय बिताया था जिनमें युवराज सिंह, ज़हीर खान, मोहम्मद कैफ, मुरली कार्तिक और हरभजन सिंह जैसे खिलाड़ी शामिल थे।  

KKR के कप्तान ने गार्डन सिटी के प्रति अपना प्यार जताया और कहा कि यह शहर उनकी उन कहानियों में शामिल होगा जो वह अपने पोता पोतियों को सुनायेंगे। 35 वर्षीय ने एक हास्यास्पद किस्सा भी याद किया जब NCA ने खिलाड़ियों ने उनकी मातृभाषा के बारे में पूछा था।

 “एक दिन हमें NCA का फॉर्म भरने के लिए कहा गया। सब कुछ तो आसान था लेकिन एक हिस्सा ऐसा था जिसमें एक खिलाड़ी बुरी तरह फसा और हम हसने लगे। सवाल था ‘आपका मदर टंग (मातृभाषा) क्या है?’ जिसपर खिलाड़ी ने जवाब दिया ‘गुलाबी’ क्योंकि उन्हें लगा कि शायाद उनकी माँ के जीभ का रंग पूछा जा रहा है!

 “एक और वाख्या हुआ जब NCA के निदेशक श्री हनुमंत सिंह एक सह खिलाड़ी से बात कर रहे थे। सिंह जी ने पूछा: ‘विकास, (दोस्ती बचाने के लिए मैं नाम बदल रहा हूँ), क्या तुम होम सिक हो? मेरे दोस्त ने कहा, “नहीं सिर, घर पर तो कोई सिक (बीमार) नहीं हैं, सब अच्छे हैं” आगे बढ़ते हैं,” उन्होंने लिखा।

गंभीर ने अपना अनुभव एक और मज़ेदार वाक्य के साथ अंत किया जो खिलाड़ी के मजाकिया अंदाज़ को साफ़ ज़ाहिर करता है।

 “मैं अपने कुछ सह खिलाड़ियों के साथ बाहुबली-2 देखने की सोच रहा था। अच्छी बात यह है कि यहाँ, बैंगलोर में, मेरा एक दोस्त मल्टीप्लेक्स का मालिक भी है, इसीलिए हाउसफुल हो या नहीं, हमें जगह मिल ही जाएगी। खुदगर्ज़ हूँ न? पता है। लेकिन मैं यह सोच रहा हूँ कि NCA को हमारा मदर टंग (मातृभाषा) जानने की ज़रुरत क्यों पड़ी!”

SHOW COMMENTS