सट्टेबाजी में सामने आए गुजरात लायंस के दो खिलाड़ियों के नाम

no photo
 |

BCCI

सट्टेबाजी में सामने आए गुजरात लायंस के दो खिलाड़ियों के नाम

रिपोर्ट में ये खुलासा हुआ है कि कानपुर से पकड़े गए तीन सट्टेबाजों में से एक ने गुजरात लायंस के दो खिलाड़ियों के नाम का खुलासा किया है, जो इस रैकेट में शामिल हो सकते हैं। पुलिस ने इन तीनों को कानपुर के होटल से गिरफतार किया जहां गुरूवार को गुजरात और दिल्ली डेयरडेविल्स का मुकाबला खेला गया।

बीसीसीआई की एंटी-करप्शन यूनिट ने सट्टेबाजी की आशंका में तीन लोगों को पकड़ा। ये यूनिट इन तीनों की हरकतों पर नजर बनाए हुए थी। इनमें से एक रमेश नयन शाह है जो थाणे में व्यापारी है, विकास चाौहान और रमेश कुमार दोनों कानपुर से ताल्लुक रखते हैं।

बीसीसीआई ने उत्तर प्रदेश पुलिस के साथ मिलकर शाह और चाौहान को उसी होटल से पकड़ा, जहां गुजरात लायंस और दिल्ली डेयरडेविल्स के खिलाड़ी ठहरे थे और रमेश कुमार को ग्रीन पार्क स्टेडियम से पकड़ा जहां इन दोनों टीमों के बीच मैच चल रहा था। पुलिस ने होटल के कमरे से 40.90 लाख रूपए और पांच मोबाइल फोन बरामद किए।

पुलिस ने इशारा किया कि पकड़े जाने से पहले ही ये सट्टा लगा चुके थे। जांच और पूछताछ से पता चला कि रमेश कुमार को स्टेडियम में होर्डिंग्स लगाने का काॅन्ट्रैक्ट मिला था और उसने होटल में दो दूसरे रूम भी बुक किए थे। वहीं शाह लगातार बंटी नाम के एक शख्स से लगातार बात कर रहा था जो इस गिरोह का बड़ा खुलासा बन सकता है।

शाह ने पुलिस की पूछताछ में गुजरात लायंस के दो खिलाड़ियों का नाम बताया जिनके बारे में वो मैसेज पर बंटी से बात कर रहा था। उस मैसेज में लिखा था ‘‘वो दोनों तैयार हैं और जैसा कहा है वो वैसा ही करेंगे’’। दूसरे मैसेज में शाह ने लिखा था कि गुजरात की टीम 200 का स्कोर करने के बावजूद हार जाएगी।

क्रिकेट और पैसों की ये लीग 2013 के बाद एक बार फिर गलत वजहों से सुर्खियों में आ रही है, जिसमें दो टीमों को फिक्सिंग स्कैंडल की वजह से निलंबित भी किया गया। अब बस यही उम्मीद की जा सकती है कि टी20 का ये कार्निवल किसी दूसरे विवाद में ना फंसे।

SHOW COMMENTS