IPL 2017 | BCCI के एंटी-करप्शन प्रमुख ने कानपुर में खिलाड़ियों से संपर्क बनाए जाने की बात से किया इनकार

no photo
 |

Bcci

IPL 2017 | BCCI के एंटी-करप्शन प्रमुख ने कानपुर में खिलाड़ियों से संपर्क बनाए जाने की बात से किया इनकार

BCCI के एंटी-करप्शन हेड नीरज कुमार ने कहा कि कानपुर में गिरफ्तार किये गए तीन लोगों के मामले से किसी IPL खिलाड़ियों का कोई ताल्लुख नहीं है। हालांकि, गुजरात लायंस के खिलाड़ियों से, DD के खिलाफ होने वाले मुक़ाबले से पहले, अज्ञात लोगों से मिलने के पीछे स्पष्टीकरण देने को कहा गया है

दिल्ली के पूर्व पुलिस आयुक्त, कुमार ने स्पष्ट किया है कि गुरुवार को टीम के होटल से गिरफ्तार किये गए तीन लोगों ने यह कहा है कि उन्होंने कुछ खिलाड़ियों से बात की थी।

ना सिर्फ इन तीन आरोपियों ने टीम के होटल में कमरे बुक कराये बल्कि वे ऐसे कमरे हासिल करने में सफल रहे जो खिलाड़ियों के कमरों के करीब थे। कानपुर में होने वाले मुक़ाबले के लिए खिलाड़ी होटल लैंडमार्क में रुके हुए हैं, जिसका इतिहास काफी गैर-कानूनी मामलों से भरा हुआ है।

2000 में आई CBI की रिपोर्ट के मुताबिक, इसी होटल में भारतीय कप्तान मोहम्मद अजहरुद्दीन ने बुकी मुकेश कुमार गुप्ता उर्फ़ एम.के. को दक्षिण अफ्रीकी कप्तान स्वर्गीय हेंसी क्रोनिये से मिलवाया था

रिपोर्ट के अनुसार गुप्ता ने जांचकर्ताओं को यह बताया था कि 1996 में होने वाले दक्षिण अफ्रीका और भारत के बीच के तीसरे टेस्ट के दौरान वह क्रोनिये से मिले थे। होटल के रिकॉर्ड में यह पाया गया था कि एम.के. उसी होटल में ठहरे हुए थे, जहां टेस्ट मैच के दौरान दोनों पक्षों के खिलाड़ियों को ठहराया गया था।

अब बुकी के कार्य विधि बदल चुके हैं अब वह लोगों से इन्स्ताग्राम, व्हाट्सएप और अन्य सोशल मीडिया साइट्स के ज़रिये खिलाड़ियों से जुड़ते हैं, लेकिन फिक्सिंग करने के तरीके अब भी वही हैं, स्थानीय पुलिस कर्मचारी ने हिंदुस्तान टाइम्स को बताया

SHOW COMMENTS