आईपीएल 2017। मुंबई को हराकर सीधे फाइनल में पहुंची राइजिंग पुणे

no photo
 |

BCCI

आईपीएल 2017। मुंबई को हराकर सीधे फाइनल में पहुंची राइजिंग पुणे

अजिंक्य रहाणे और मनोज तिवारी के अर्धशतक और एमएस धोनी की जबर्दस्त पारी की मदद से राइजिंग पुणे सुपरजायंट्स की टीम सबसे पहले फाइनल में पहुंची। पुणे द्वारा 162/4 का स्कोर करने के बाद बल्लेबाजी के लिए आई मुंबई इंडियन्स दबाव नहीं झेल सकी और अब उन्हें शुक्रवार को एलिमिनेटर मुकाबला खेलना होगा।

Brief Scores: Mumbai Indians 106/7 (Parthiv Patel 52; Washington Sundar 3/16, Shardul Thakur 2/28) lost to  Rising Pune Supergiant 162/4 (Manoj Tiwary 58, Ajinkya Rahane 56, MS Dhoni 40; Lasith Malinga 1/14) by 20 runs.

टाॅस जीतने के बाद रोहित शर्मा ने पुणे को बल्लेबाजी के लिए आमंत्रित किया। फाइनल में जगह बनाने की उम्मीद से उतरी मुंबई इंडियन्स ने टीम में मिचेल मैक्लेनघन, जसप्रीत बुमराह, लसिथ मलिंगा और पार्थिव पटेल की वापसी कराई, जिन्हें कोलकाता के खिलाफ हुए पिछले मुकाबले में आराम दिया गया था। वहीं बेन स्टोक्स के इंग्लैंड वापस जाकर दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ सीरीज खेलने की वजह से राइजिंग पुणे सुपरजायंट्स को लोकी फग्र्युसन को टीम में शामिल करना पड़ा।

शुरूआती झटकों के बाद रहाणे-तिवारी ने संभाली पुणे की पारी

पुणे ने लीग दौर में हुए दो मुकाबलों में मुंबई को शिकस्त दी है लेकिन टूर्नामेंट के सबसे अहम मुकाबले में टीम को बड़ा झटका मैक्लेनघन ने दिया, जिन्हें राहुल त्रिपाठी के रूप में पहली सफलता मिली। उम्मीद थी कि कप्तान स्टीव स्मिथ स्थिति को संभालेंगे लेकिन मलिंगा की गेंद पर बैकवर्ड प्वाइंट पर खड़े हार्दिक पांड्या ने उनका कैच लपक लिया। मुंबई के गेंदबाजों ने सतह की कम गति का इस्तेमाल करके आक्रामक अजिंक्य रहाणे और मनोज तिवारी को नियंत्रित किया। इस वजह से पावरप्ले में पुणे की टीम 2 विकेट खोकर सिर्फ 33 रन बना सकी। लेकिन जल्द ही रहाणे अपनी भूमिका में आ गए। तिवारी को संघर्ष करना पड़ा लेकिन उन्होंने दूसरे छोर पर खड़े होकर साथ देने का प्रयास करते हुए एक-दो रनों के साथ मौका लगने पर बड़े शाॅट्स भी खेले। स्पिनर्स को टर्न मिल रहा था और तिवारी दूसरे छोर से धीमा प्रदर्शन कर रहे थे इसलिए पुणे की टीम अगले चार ओवर में 30 रन और जोड़ सकी। आधी पारी की समाप्ति पर पुणे का स्कोर 63/2 था।

तिवारी के अर्धशतक और धोनी की पारी की बदौलत पुणे ने किया अच्छा स्कोर

रहाणे बेहतरीन फाॅर्म में नजर आ रहे थे, पुणे के स्कोर को बढ़ाने के साथ ही उन्होंने 39 गेंदों में अपना अर्धशतक पूरा किया। मैदान में खड़े ये दोनों बल्लेबाज जब एक अच्छी साझेदारी की तरफ बढ़ रहे थे तभी कर्ण शर्मा ने रहाणे का विकेट निकाल लिया। रहाणे का विकेट निकाल कर मुंबई ने सोचा होगा कि अब मुकाबला उनके हाथ में आ चुका है लेकिन कर्ण की गेंदों को धोनी ने लाॅन्ग आॅन पर भेजकर उन्हें हकीकत से रूबरू करा दिया। मुंबई की कसी हुई गेंदबाजी के बावजूद तिवारी ने अपना अर्धशतक पूरा किया। दूसरी तरफ धोनी ने गेंदबाजों पर बिल्कुल भी रहम नहीं दिखाया और कहर बरपात हुए छह गेंदों के अंदर चार छक्के लगा दिए। मुंबई के घरेलू मैदान में धोनी-धोनी की गूंज सुनाई देने लगी। इन दोनों खिलाड़ियों ने आखिरी दो ओवर में 41 रन जोड़कर पुणे का स्कोर 20 ओवर के बाद 162/4 तक पहुंचाया।

पुणे के गेंदबाजों ने मुंबई पर कसा शिकंजा

मुंबई इंडियन्स जयदेव उनादकट के पहले ओवर में सिर्फ एक रन हासिल कर पाई। सलामी बल्लेबाज लेंडल सिमन्स 13 गेंदों में 5 रन बनाकर पांचवे ओवर में शार्दुल ठाकुर द्वारा रन आउट हुए, उस वक्त टीम 35 रन के स्कोर पर थी। रोहित शर्मा को एक बार फिर गलत एलबीडब्ल्यू के जरिए आउट दिया गया। मुंबई ने पुणे के फिल्डिंग स्तर को परखने के बारे में सोचा तभी स्मिथ ने रायडू और किरोन पोलार्ड का बेहतरीन कैच लपक कर उन्हें ड्रेसिंग रूम पहुंचाया। दूसरे छोर से पार्थिव पटेल ने धीरे-धीरे पारी को संभाले रखा और 10 ओवर के बाद टीम का स्कोर 71/4 पहुंचाया। मुंबई को फाइनल में पहुंचने के लिए अब भी 92 रनों की जरूरत थी।

पार्थिव का संघर्ष हुआ व्यर्थ 

घरेलू दर्शकों को मुंबई की आतिशी पारी देखने की उम्मीद थी लेकिन पुणे के गेंदबाजों ने ऐसा मुमकिन होने नहीं दिया। खासतौर से युवा गेंदबाज वाशिंगटन सुंदर ने सबको प्रभावित किया। उनकी गली और वैरिएशंस को ठाकुर का अच्छा साथ मिला। जिस वक्त मुंबई टीम को हार्दिक की बेहद जरूरत थी तब वो भी सिर्फ 14 रनों का योगदान दे सके। क्रिश्चियन की दो लगातार गेंदों को कृणाल पांड्या ने जरूर बाउंड्री के लिए भेजा। अगले ओवर में आखिरकार पार्थिव ने भी अपना अर्धशतक पूरा किया। लेकिन इसी ओवर में ठाकुर ने सीनियर पांड्या को भी पवैलियन भेज दिया। पार्थिव द्वारा संघर्षपूर्ण पारी व्यर्थ हो गई, उन्हें दूसरे छोर से मजबूत साझेदार नहीं मिल पाया। टीम 20 ओवर में 142/9 का स्कोर ही कर सकी। 20 रनों से लक्ष्य से चूकने वाली मुंबई के पास फाइनल में पहुंचने का एक और मौका है। वो शुक्रवार को एलिमिनेटर मुकाबला खेलेगी।

In the last 5 IND vs SA ODIs, SA was bowled out twice, while IND was bowled out only once.

Will either team be able to bowl their opponent out? Predict on Nostragamus now! Join IND vs SA challenge and win up to ₹40,000.

Download Nostragamus for FREE and get ₹20 Joining Bonus! Click here to download app on Android.

SHOW COMMENTS