चैंपियंस लीग | रोनाल्डो ने बायर्न में रियल की जीत किया सुनिश्चित; एटलेटिको, मोनाको की जीत

no photo
 |

Getty

चैंपियंस लीग | रोनाल्डो ने बायर्न में रियल की जीत किया सुनिश्चित; एटलेटिको, मोनाको की जीत

क्रिस्टियानो रोनाल्डो ने कल एलियांज एरीना में बायर्न म्युनिख को 2-1 से हराकर क्वार्टर फाइनल के दूसरे मुकाबले में रियल मेड्रिड की भिड़ंत सेंटियागो बेर्नाबू के साथ निर्धारित किया। वहीं इंग्लिश चैंपियन लेस्टर सिटी को हराने के लिए एटलेटिको मेड्रिड के लिए एंटोइन ग्रिजमन की पेनल्टी काफी साबित हुई।

फाइनल के समान दिलचस्प माने जाने वाला यह मुकाबला शुरुआत से पहले ही तब थोड़ा फीका पड़ा जब रोबर्ट लेवेंदोसकी अस्वस्थ होने के कारण खेल नहीं सके। हालांकि, 25वे मिनट पर मेज़बान टीम ने अरटूरो विडाल की मदद से बढ़त हासिल की। थियागो अलकन्टारा कार्नर से चिलियान खिलाड़ी ने एक लम्बा शॉट लगाया जिससे मेजबानों को बढ़त मिली। पूर्व जुवेंटस खिलाड़ी के पास इसके बाद अपने पक्ष को दुगना करने का अवसर था लेकिन पेनल्टी स्पॉट से लगाए गए शॉट के ग़लत जाने की वजह से ऐसा हो नहीं सका। और टीम को 1-0 की बढ़त के साथ ही दूसरे हाफ में जाना पड़ा।

दूसरा भाग क्रिस्टियानो रोनाल्डो के नाम रहा और पुर्तगाली खिलाड़ी ने दूसरे भाग के पहले ही मिनट में स्कोर कर सात महीने लम्बे चले गोल के सूखे पर रोक लगाई। रियल ने जर्मन पक्ष पर और भी कहर ढाया जब जावी मार्टिनेज़ ने कामयाबी हासिल की। इसके बाद पुर्तगाल ने जर्मन को 13 मिनट तक मशक्कत कराया। बायर्न अगर एक गोल की कमी के साथ भी दूसरे चरण में जा पाया है तो इसका श्रेय सिर्फ मैनुएल नेयर को जाता है।

पेनल्टी ने लगाया लेस्टर के सुनहरे समय पर अंकुश  

पिछले राउंड में सेविला को हारने के बाद, लेस्टर विसेंटे कलडेरोन में एटलेटिको मेड्रिड से भिड़ने एक बार फिर स्पेन पहुंचा। सेविला के मुकाबले की तरह, इस बार भी ज्यादातर खेल एक तरफ़ा ही रहा और कोके की मदद से एटलेटिको ने आक्रामक रुख अपनाया।

28वे मिनट में खेल का इकलौता गोल लगा जो मार्क अलब्राइटन की ग़लती पर एंटोइन ग्रिज़मन ने लगाया। हालांकि रीप्ले में हरकत पेनल्टी बॉक्स से बाहर की नज़र आई थी। ग्रिज़मन ने कमान संभाला और कैस्पर श्माइकल को आगे भेजा जिन्होंने सेविला के खिलाफ दो पेनल्टी रोके थे। हालांकि एटलेटिको के खिलाफ वह काम नहीं आये। लेस्टर का अगला मुकाबला किंग पॉवर स्टेडियम में अगले हफ्ते होगा जिसमें वे अपना सफ़र जारी रखने की भरपूर कोशिश करेंगे।

कैलियन म्बाप्पे ने डोर्टमंड को पछाड़ा

बोरशिया डोर्टमंड के खिलाफ एएस मोनाको का मुकाबला 24 घंटों के विलम्ब से शुरू हुआ। 11 अप्रैल हो मेजबानों की बस पर हमला होने के कारण मुकाबले को टाला गया था। थॉमस लेमार से मिली गेंद को किशोर खिलाड़ी कैलियन म्बाप्पे ने नेट तक पहुंचकर अपनी टीम को बढ़त दिलाई। हालात और भी बिगड़े जब स्वेन बेंडर के गोल से हाफ टाइम से पहले ही बढ़त दुगनी हो गयी।

दूसरे हाफ में डोर्टमंड जवाबी हमले के इरादे से मैदान में उतरे और ओसमान डेमबेले ने स्कोर कर उनके इस इरादे को कामयाब भी किया। लेकिन 11 मिनट पहले म्बाप्पे के एक और गोल से सारी उम्मीदें तोड़ दी। शिंजी कगावा ने जर्मन पक्ष के लिए एक और गोल किया लेकिन तब तक बहुत देर हो चुकी थी। डोर्टमंड को अब मोनाको के खिलाफ होने वाले वाले दूसरे मुकाबले में कड़ी मेहनत करनी होगी।   

SHOW COMMENTS