बेंगलुरु एफसी इस साल भी बनेंगे आई-लीग के विजेता, कोच एल्बर्ट रोका ने कहा

no photo
 |

बेंगलुरु एफसी इस साल भी बनेंगे आई-लीग के विजेता, कोच एल्बर्ट रोका ने कहा

बेंगलुरु एफसी के प्रमुख कोच एल्बर्ट रोका ने कहा है कि टीम पर कोई दबाव नहीं होगा और वह आई-लीग में शिलांग लाजोंग के खिलाफ अपने पहले खेल में कड़े मुक़ाबले की उम्मीद में हैं। टीम के कुछ अहम खिलाड़ियों के चोटिल होने के बावजूद, रोका का मानना है कि उन्हें इसकी फिक्र करने के बजाय अपने खेल पर ध्यान देना चाहिए।

साल नया है और सत्र भी और टीम में कुछ बदलाव भी लाये गए हैं, पर खुद को एक बार फिर आई-लीग विजेता बनाने की बेंगलुरु एफसी की मंशा अब भी बरक़रार है। एल्बर्ट रोका की टीम 2016-17 के सत्र की शुरुआत, शनिवार को, बेंगलुरु के कांतिरवा स्टेडियम में शिलांग लाजोंग के खिलाफ मुक़ाबले से करेंगे।  

पिछले सभी मुकाबलों में, ये दोनों टीम जब भी बेंगलुरु में भिड़ी है तो जीत हमेशा, मेज़बान टीम की ही हुई है। लेकिन रोका का नजरिया कुछ और ही कहता है। “हम एक बेहद प्रतियोगितात्मक टीम से भिड़ेंगे, और अगर हमें इस टूर्नामेंट की शुरुआत जीत से करनी है तो, यह ज़रूरी है कि हम मैदान में अपना 100% दें।”

जब उनसे यह पूछा गया कि पिछली बार आई-लीग के विजेता होने और AFC कप के प्रतिभागी बनने के बाद, बेंगलुरु एफसी पर उम्मीदों का दबाव बना है या नहीं, तो रोका ने इस बात से इनकार किया। “हम पर किसी प्रकार का दबाव नहीं है। अगर AFC कप की सफलता का हमपर कोई असर हुआ है, तो वह यह है कि हमारा आत्मबल बढ़ा है और हम उसी विश्वास के साथ लीग में भी खेलना चाहते हैं। हमें, पहले मुक़ाबले से ही, अपना सर्वश्रेष्ठ देना होगा, और ऐसा करने के लिए हम पर कोई दबाव नहीं है।”

बेंगलुरु की टीम में काफी परिवर्तन लाये गए हैं, पांच लोगों के शामिल होने से टीम और भी मज़बूत हुई है और मैदान के हर क्षेत्र के लिए टीम के पास अब सक्षम खिलाड़ी हैं। और रोका ने कहा है कि वह नए खिलाड़ियों के शामिल होने से बेहद खुश हैं। “ये वे खिलाड़ी हैं जिन्होंने अनुभवी खिलाड़ियों के खिलाफ और पक्ष में खेला है, इसीलिए हमारे लिए ये फायेदेमंद रहेंगे। उन्होंने काफी अच्छे तरीके से हमारे खेल की शैली को अपना लिया है, और समय के साथ वे बेहतर होते जा रहे हैं।”

हालांकि, इस नए सत्र के लिए बेंगलुरु की तैयारियां कई चोटिल खिलाड़ियों से प्रभावित हुई है। टीम इस बार रीनो एंटो, लालथुआमाविया राल्ते, कीगन परेरा, सलाम रंजन सिंह और लालछुयानमाविया जैसे खिलाड़ी शामिल नहीं होंगे। लेकिन कोच रोका का मानना है कि टीम मुकाबलों के लिए तैयार है। “यह बुरी बात है कि चोटों की वजह से यह बड़े खिलाड़ी टीम में शामिल नहीं हो पाएंगे, लेकिन हमें आगे बढ़ना होगा। कुछ लोग बाकियों से अधिक समय के लिए टीम से बाहर रहेंगे, और ऐसी स्थिति में ही टीम कि मजबूती सामने आएगी। हमारे पास विभिन्न प्रकार के खिलाड़ी हैं और इससे हमें मदद मिलेगी,” रोका ने कहा।

वहीं, लाजोंग में भी बदलाव लाये गए हैं और तीन नए विदेशी खिलाड़ियों को शामिल किया गया है। स्ट्राइकर फैबिओ पना को कैमरूनियन स्ट्राइकर एसर पेरिक डिपेंडा का साथ मिलेगा, जो पिछले साल DSK शिवाजियन में शामिल थे। वहीं मिडफील्डर युता किनोवाकी और डिफेंडर डैन इगनेट को भी टीम में जोड़ा जाया है।  

यह मुक़ाबला शाम 7 बजे से शुरू होगा और टेन 2 पर प्रसारित किया जायेगा।

Don’t miss the UEFA Europa League QF! Predict the Matches & WIN CASH!

Join & Play NOW! Click here here to download Nostra Pro & get ₹20 Joining Bonus!

Win cash daily by predicting the right result on Nostragamus. Click here to download the game on Android! To know more, visit Nostragamus.in

SHOW COMMENTS