मैथ्यू हेडनः पिचें काफी खराब थी

no photo
 |

© Getty Images

मैथ्यू हेडनः पिचें काफी खराब थी

मैथ्यू हेडन ने बाॅर्डर गावस्कर सीरीज के दौरान इस्तेमाल हुई पिचों को रद्दी करार दिया है। आॅस्ट्रेलिया के पूर्व सलामी बल्लेबाज ने ऐसी पिच पर भी अच्छी क्रिकेट खेलने के लिए दोनों टीमों की तारीफ की है और साथ ही उन्होंने इस दौरे पर सबका ध्यान खींचने वाले मैट रेनेशाॅ की भी सराहना की।

हेडन को लगता है कि भारत को मुकाबला जीतने के लिए ऐसे विकेट की जरूरत नहीं है। उन्होंने कहा, ‘‘मैंने पहले ही कहा कि ये मुकाबले घटिया पिचों पर कराए गए। ये हैरान करता है क्योंकि भारत उन विकेट पर अच्छा खेल सकता है जो प्राकृतिक ढंग से टूटती है और टर्न करना शुरू करती है। सच्चाई यही है कि नेथन ल्योन द्वारा टेस्ट की पहली पारी में झटके आठ विकेट सबकुछ बयां कर देते हैं।’’

पुणे और बैंगलोर की पिच के निराश करने के बावजूद दोनों टेस्ट मुकाबलों में संघर्ष दिखा। हेडन ने मैट रेनेशाॅ की भी तारीफ की जिन्होंने सीरीज में अब तक अच्छा प्रदर्शन दिखाया है।

हेडन ने क्रिकबज से कहा, ‘‘खराब पिचों पर खेलने के बावजूद भी ये सीरीज अब तक काफी शानदार रही। इन दोनों ही टीमों ने काफी संघर्ष दिखाया, खासतौर से दूसरे टेस्ट मुकाबले के दौरान। आॅस्ट्रेलिया के लिए मैट रेनशाॅ ने अच्छा प्रदर्शन किया। बल्लेबाजी की कठिन परिस्थितियों में भी उसने दबाव का सामना किया और एक 20 साल का खिलाड़ी होते हुए भी उसने कौशल और परिपक्वता दिखाई।’’

इन दिनों आॅस्ट्रेलियाई बल्लेबाज स्वीप शाॅट खेलते नहीं देखे जाते हैं। हेडन के मुताबिक उपमाहाद्वीप में स्वीप शाॅट महत्वपूर्ण होता है लेकिन इसे खेलने का दबाव सब पर नहीं डाला जा सकता है।

उन्होंने बताया कि, ‘‘भारतीय परिस्थितियों में स्वीप शाॅट महत्वपूर्ण है लेकिन मैंने तकरीबन 10 साल फस्र्ट क्लास क्रिकेट खेलकर खुद को इसके अनुरूप बनाया था। इसलिए इसमें वक्त लगता है और अगर आप इसे आराम से नहीं खेल पा रहे हैं तो इस शाॅट को खेलने का दबाव नहीं डालना चाहिए।’’

SHOW COMMENTS