user tracker image

देखें: कैसे नील वैगनर क्रीज़ के अन्दर रहते हुए भी हो गए रन-आउट

no photo
camera iconcamera icon|

Getty

देखें: कैसे नील वैगनर क्रीज़ के अन्दर रहते हुए भी हो गए रन-आउट

बांग्लादेश के खिलाफ दूसरे टेस्ट में, बांग्लादेश के विकेटकीपर नुरुल हसन द्वारा पीछे की तरफ फेंकी गयी गेंद से न्यू जीलैंड के तेज़ गेंदबाज़ नील वैगनर को एक हास्यास्पद डिसमिसल का सामना करना पड़ा। हालांकि पहली नज़र में वह बिल्कुल सुरक्षित लग रहे थे लेकिन रिप्लेज के ज़रिये पता चला कि उनके पाँव हवा में थें।

22 यार्ड तब युद्धभूमि में बदलता है, जब बल्लेबाज़ ने फील्डर के ख़राब थ्रो का फायेदा उठाते हुए, एक अतिरिक्त रन लेते हैं या विकेटकीपर अपनी तेज़ हरकतों से बल्लेबाज़ को हैरान करते हैं। लेकिन फिर, कुछ ऐसे भी खिलाड़ी मौजूद हैं जो सिंगल लेने से बचते हुए अपनी ऊर्जा को बचाने की कोशिश करते हैं और अधिकतर बाउंड्री लगाने के मौके तलाशते हैं। जबकि, क्रिकेट के मैदान में कई हास्यास्पद रन-आउट भी हुए हैं। कल, न्यू जीलैंड के आखिरी बल्लेबाज़ नील वैगनर को भी कुछ ऐसे ही हादसे का शिकार होना पड़ा।

वैगनर ने शाकिब अल हसन की गेंद को स्क्वायर लेग की तरफ मारा और अपने पार्टनर ट्रेंट बोल्ट को दूसरे रन के लिए आगे बढ़ने को कहा। लेकिन इस असमंजस में हुई चूक के कारण वैगनर को पवेलियन वापस जाना पड़ा। कमरुल इस्लाम रब्बी ने गेंद फेंकी जो विकेट कीपर से थोड़ी सी ऊपर थी और नुरुअल हसन ने गेंद पीछे की तरफ फेंकते हुए स्टंप्स पर दे मारी।

पहली नज़र में ऐसा लगा कि वैगनर सुरक्षित क्रीज़ में पहुँच गए थे लेकिन अंपायर ने सुनिश्चित होने के लिए थर्ड अंपायर की मदद ली। सबको हैरानी तब हुई जब रिप्लेज में यह देखा गया कि वैगनर ने क्रीज़ के अन्दर एक फूट तक अपनी गेंद ज़मीन पर नहीं लगाई थी और क्रिकेट के कानून के हिसाब से वह आउट थे।

वैगनर तब सुरक्षित रहते अगर गिल्लियों के गिरने से पहले उनका पैर क्रीज़ पर होता। लेकिन उन्होंने तब तक ऐसा नहीं किया था। उनके पाँव आखिरी बार ज़मीन पर क्रीज़ पर पहुँचने से पहले पड़ा था।

MCC के लॉ 29 (बल्लेबाज़ मैदान से बाहर) के अनुसार, "बल्लेबाज़ को खेल/मैदान से बाहर जाने के लिए कहा जा सकता है अगर उनके छोर के पॉपिंग क्रीज़ तक खिलाड़ी का पैर या उनके शरीर का कोई अंग ज़मीन पर न लगा हो।"

अक्टूबर 2010 में, MCC ने कानून में बदलाव लाते हुए कहा था कि "अगर रन लेने वल्ले बल्लेबाज़ ने पॉपिंग क्रीज़ से पहले अपने पैर का कोई हिस्सा ज़मीन पर रखने के बाद विकेट की ओर दौड़ता है, तो, इस दौरान उसके शरीर या बल्ले के ज़मीन पर से उठने के हरण उसे आउट नहीं दिया जायेगा।"

वैगनर ने तब अपने पैर ज़मीन पर नहीं रखे थे जब गिल्लियां उड़ी थी और इसीलिए उन्हें आउट करार दिया गया।

Follow us on Facebook here

Stay connected with us on Twitter here

Like and share our Instagram page here

SHOW COMMENTS drop down