user tracker image

भारत के खिलाफ आशावादी इंजमाम-उल-हक ने कहा, हर दिन नई सुबह लेकर आता है

no photo
camera iconcamera icon|

Getty images

भारत के खिलाफ आशावादी इंजमाम-उल-हक ने कहा, हर दिन नई सुबह लेकर आता है

आईसीसी के बड़े टूर्नामेंट में भारत के खिलाफ निराशाजनक प्रदर्शन रहने के बावजूद पीसीबी के चीफ सिलेक्टर इंजमाम-उल-हक पाकिस्तान की जीत को लेकर आशावान हैं जिनका मुकाबला आगामी चैंपियंस ट्राॅफी में इंग्लैंड और वेल्स में होगा। भारत-पाकिस्तान की भिड़ंत 4 जून को होगी।

इंजमाम उल हक ने एक्सप्रेस ट्रिब्यून अखबार से कहा, ‘‘बड़े इवेंट्स में भारत के खिलाफ हमारा रिकाॅर्ड अच्छा नहीं है लेकिन हर दिन एक नया दिन होता है और मुझे उम्मीद है कि खिलाड़ी अपने पहले मुकाबले में अच्छा प्रदर्शन करेंगे।’’

‘‘4 जून का मुकाबला काफी महत्वपूर्ण है, इसलिए नहीं कि ये भारत के खिलाफ है लेकिन इसलिए क्योंकि ये सेमीफाइनल में पहुंचने की राह में मदद करेगा। हमारी टीम संतुलित है जिसमें युवा और अनुभवी खिलाड़ियों का मिश्रण है।’’

पाकिस्तान के 15 सदस्य दल के आठ खिलाड़ी फिलहाल वेस्टइंडीज के खिलाफ टेस्ट सीरीज खेल रहे हैं और वो 10 दिन के कैंप के लिए 14 मई को सीधे बर्मिंघम पहुंचेंगे।

टीम के अतिरिक्त सात खिलाड़ी- मोहम्मद हफीज, शोएब मलिक, उमर अकमल, इमाद वसीम, जुनैद खान, फखर जमन और फहीम अशरफ कैंप के लिए पीसीबी नेशनल क्रिकेट अकादमी को रिपोर्ट करेंगे जिसके बाद वो बर्मिंघम के लिए उड़ान भरेंगे।

इंजमाम ने उम्मीद जताई है कि ट्रेनिंग कैंप और दो अभ्यास मुकाबलों से खिलाड़ियों को वहां के माहौल से तालमेल बिठाने में मदद मिलेगी।

इंजमाम ने कहा, ‘‘बर्मिंघम में आयोजित होने वाला 10 दिन का कैंप टीम को एक ब्रेक के बाद एकजुट होने का मौका देगा। खिलाड़ियों को वहां के मौसम से भी तालमेल बिठाने का मौका मिलेगा। इंग्लिश माहौल में खेलना हमारे लिए हमेशा से ही चुनौतिपूर्ण रहा है लेकिन मुझे उम्मीद है कि हम वहां अच्छा करने में कामयाब रहेंगे। मैं योजना बना रहा हूं कि कैंप के दौरान वहां का दौरा करूं क्योंकि रमजान की वजह से मैं टूर्नामेंट के वक्त नहीं जा पाउंगा।’’

Follow us on Facebook here

Stay connected with us on Twitter here

Like and share our Instagram page here

SHOW COMMENTS drop down