user tracker image

IPL 2017 | हैदराबाद से मिली जीत के लिए गंभीर ने गेंदबाजों को दिया श्रेय

no photo
camera iconcamera icon|

BCCI

IPL 2017 | हैदराबाद से मिली जीत के लिए गंभीर ने गेंदबाजों को दिया श्रेय

गौतम गंभीर ने कहा कि कोलकाता नाइट राइडर्स की गेंदबाजी की बदौलत सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ टीम को जीत हासिल हो पायी है। इसके साथ ही KKR के कप्तान ने बल्लेबाजी की आलोचना करते हुए कहा कि लक्ष्य का पीछा करते हुए टीम को बेहतर प्रदर्शन करना चाहिए था।

बारिश की संभावनाओं के बीच, KKR ने IPL 10 के अब तक के सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी में से एक प्रदर्शन सामने रखा और टूर्नामेंट के पूर्व विजेता को 20 ओवर में 128/7 में निपटाया इस प्रदर्शन में स्पिनर और तेज़ गेंदबाज़, दोनों ने अपना योगदान दिया। SRH की पारी के आखिरी ओवर में, बारिश होने लगी, और खेल तीन घंटों के लिए रोकना पड़ा।

जब तीन घंटे बाद खेल की शुरुआत हुई, तो KKR को 6 ओवर में 48 रन बनाने थे। दो बार विजेता रही इस टीम ने 4 गेंदों के बाकी रहते हुए, सात विकेट से जीत अपने नाम कर ली।

"सबसे ज्यादा श्रेय गेंदबाजों को जाता है। उन्होंने जीत हासिल करने में मदद की," गंभीर ने मैच के बाद हुए प्रेस कांफ्रेंस में कहा। "सनराइजर्स को 128 के स्कोर पर निपटाना बेहतरीन था। कभी कभी हमारे जोश में भी कमी आई। और हम मैदान में जितना रन रोकेंगे उतना ही कम दबाव हमारे ऊपर बनेगा, लिहाज़ा सब अपना योगदान देने को तैयार होते हैं," PTI के अनुसार उन्होंने कहा।

वैसे तो यह लक्ष्य आसान लग रहा था, लेकिन शुरुआत में सनराइजर्स ने क्रिस लिन और युसूफ पठान को पवेलियन भेजा जिसके बाद रोबिन उथप्पा का विकेट भी जल्द ही गिर गया। लेकिन गंभीर ने अपनी भूमिका अच्छे से निभाते हुए 19 गेंदों में 32 रनों की नाबाद पारी खेली, और इसी वजह से टीम सेमी फाइनल में मुंबई इंडियन्स से भिड़ने के लिए उत्तीर्ण हो पायी। KKR के कप्तान ने कहा कि वह बल्लेबाजों के प्रदर्शन से नाखुश थे क्योंकि उन्होंने हैदराबाद के गेंदबाजों को खेल में वापसी करने का मौका दिया।

हमारी बल्लेबाजी बेहतर होनी चाहिए थी," गंभीर ने कहा। "RCB के खिलाफ हमें जो विकेट मिला था उससे यह विकेट अच्छा था। हमारी पारी में गेंद बल्ले तक अच्छे से आ रही थी। मेरे ख्याल से अगर आपका लक्ष्य 160 का हो तो आपका स्कोर अच्छा हो सकता है। आप हर मुकाबले में 200 नहीं बना सकते।

इस नतीजे के बाद यह साफ़ हो गया की IPL के 10 सत्रों में अब तक कोई भी टीम विजेता का खिताब अपने पास लगातार दो बार रखने में सफल नहीं हो पायी है।

"हम 30 रन से पीछे थे। बल्लेबाजी के लिए यह विकेट आसान नहीं था। गेंदबाजी के लिए सही था। इस सत्र में ज़्यादातर बुरे विकेट ही मिले हैं। और उनकी गेंदबाजी भी अच्छी थी," सनराइजर्स के कप्तान डेविड वार्नर ने कहा।

"हमारी बल्लेबाजी कुछ ख़ास नहीं थी। हमने एक अच्छी शुरुआत की थी, तीन विकेट चटक गए और हम जानते थे उसके बाद ऐसा ही कुछ होगा और वो हुआ भी। हम पिछली बार की तरह ही अच्छा खेल रहे थे।"

Follow us on Facebook here

Stay connected with us on Twitter here

Like and share our Instagram page here

SHOW COMMENTS drop down