user tracker image

होसे मौरिन्हो : रूनी ही कप्तान हैं

no photo
camera iconcamera icon|

© Getty

होसे मौरिन्हो : रूनी ही कप्तान हैं

दबाव में चल रहे वेन रूनी को उके प्रबंधक होसे मौरिन्हो से अति आवश्यक समर्थन मिला है जिन्होंने जोर देते हुए कहा कि परिस्थिति चाहे जैसी भी हो, रूनी ही कप्तान रहेंगे। मेनचेस्टर यूनाइटेड के प्रबंधक ने रूनी के व्यवसायिक योग्यता की प्रशंसा की और और उन्हें कप्तान के तौर पर बनाये रखने का समर्थन किया।

वेन रूनी के टीम में स्थान की दावेदारी पर, अलग अलग प्रबंधकों के नीचे जिन्होंने ने सर अलेक्स फर्गुसन का अनुगमन किया, पर कभी प्रश्न नहीं उठा जब उन्हें वो अलग अलग स्थानों पर खिलने में कामयाब रहे। हालांकि, एक विश्व कीर्तिमान वाला अनुबंध परिस्थिति में बदलाव ला सकता है और जब पॉल पोग्बा और उनके कप्तान को टीम में लेने में समस्या आने लगी तो मौरिन्हो ने एक कठिन निर्णय लेते हुए रूनी को लेस्टर सिटी और यूरोपा लीग मेंजोरया लुहंस्क के विरूद्ध मैच में बाहर बैठा दिया। उस समय लगातार हार का सामना कर रहे मेनचेस्टर यूनाइटेड ने वर्तमानं चैंपियन को 4-1 से हराया और यूरोपा लीग मैच को 1-0 से जीता।

परतु मौरिन्हो ने पूरे तरीके से रूनी का समर्थन किया है और कहा है कि किसीभी स्थिति में रूनी ही कप्तान रहेंगे।

“ वेन कप्तान हैं, चाहे कुछ भी हो,” मौरिन्हो ने अंग्रेजी समाचारपत्रों को बताया।” वो मैदान पर हैं या नहीं इस से कोई अंतर नहीं पड़ता।”

“ वो मेरे, क्लब के और खिलाडियों के कप्तान हैं। और हर किसी का कप्तान बनना कठिन होता है। तो उनके लिए पूरा सम्मान और पूरा समर्थन है।”

“ वो मेनचेस्टर यूनाइटेड के खिलाडी हैं, वो बहुत अच्छे व्यावसायिक स्तर के खिलाडी हैं और वो जीतना चाहते हैं और ज़ाहिर तौर वो खुश थे जब उन्होंने गोल किया।”



“ वो खिलाडियों के लिए बोलते हैं और लोगो को प्रेरित्कारते हैं। वो ड्रेसिंग रूम में भी वही करते हैं जो वो मैच खेलते समय करते हैं।”

वो हमारे खिलाडी हैं। वो हमारे लिए गोल करेंगे और हमरे लिए कड़ी मेहनत करेंगे। मुझे इस बात पर कोई संदेह नहीं है।

मौरिन्हो ने रूनी को इंग्लैंड का कप्तान बनाये रखने का भी समर्थन किया है जो अंतरिम कोच गैरेथ साउथगेट के नेतृत्व में फिर से एकत्रित हो रही है, जिन्होंने सैम अल्लरडाइस की अपमानपूर्ण कार्यनिवृत्ति के बाद कार्यभार संभाला है।

“ अगर आप मुझसे पूछें कि अगर मैं रूनी को कप्तान बांये जाने के निर्णय से खुश हूँ तो मैं आपसे कहूँगा कि मैं बहुत खुश हूँ,” मौरिन्हो ने कहा।

“ गैरेथ को हमेशा से मेरा समर्थन रहा है जैसा सैम को था, स्वेन योरान एरिक्सन को था, और बाकी लोगो को भी मेरे चेल्सी के कार्यकाल के समय में और मेरे मेनचेस्टर यूनाइटेड के कार्यकाल के समय में थे।”

“ गैरेथ अब राष्ट्रीय टीम के प्रबंधक हैं और उन्हें मेरी तरफ से केवल 100 प्रतिशत नहीं बल्कि 200 प्रतिशत सम्मान है। मेरे ख़याल से वेन को कप्तान बनाये जाने का निर्णय सही है।”

Follow us on Facebook here

Stay connected with us on Twitter here

Like and share our Instagram page here

SHOW COMMENTS drop down